Saturday , November 26 2022

नाम के अनुरूप जनता के कल्‍याण का कार्य किया कल्‍याण सिंह ने : योगी

-कल्‍याण सिंह सुपर स्पेशियलिटी कैंसर संस्थान में हुआ कांस्‍य प्रतिमा का अनावरण, ओटी ब्‍लॉक का लोकार्पण

सेहत टाइम्‍स

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पूर्व राज्यपाल राजस्थान एवं हिमाचल प्रदेश तथा प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के व्‍यक्तित्‍व एवं कृतित्व पर प्रकाश डालते हुये कहा कि उन्‍होंने अपने नाम के अनुरूप कार्य क्षेत्र में भी जनता के कल्याण का कार्य किया एवं भ्रष्‍टाचार मुक्त प्रदेश की अलख उनके द्वारा जगायी गयी।

मुख्यमंत्री ने यह बात रविवार 21 अगस्‍त को यहां कल्याण सिंह सुपर स्पेशियलिटी कैंसर संस्थान, लखनऊ में  कल्याण सिंह की कांस्य निर्मित भव्य प्रतिमा का अनावरण करते हुए अपने सम्‍बोधन में कही। इस अवसर पर मुख्यमंत्री द्वारा ओ.टी. ब्लॉक का लोकार्पण भी किया गया। उन्‍होंने अपने भाषण में संस्थान के कार्यों का उल्लेख करते हुये कहा कि संस्थान में वर्तमान में मरीजों के लिए 734 शैय्याओं की योजनाओं की सुविधा प्रावधानित है जिसे बढ़ाकर 1250 शैय्याओं की क्षमता तक किया जाना है। इस संस्थान की अनुमानित निर्माण लागत 833 करोड़ रुपये है।

इस अवसर पर कल्याण सिंह सुपर स्पेशिएलटी कैंसर संस्थान व संजय गांधी स्नातकोत्तर आयुर्विज्ञान संस्थान के निदेशक प्रो आर के धीमन ने कहा कि इस संस्थान में रोगियों की सेवा करने व ऑन्कोलॉजी के क्षेत्र में प्रशिक्षित डॉक्टरों और पैरामेडिकल को तैयार करने की अद्भुत क्षमता व अवसर हैं। उत्तर प्रदेश में जहाँ कैंसर से पीड़ित सबसे अधिक मरीज रहते थे, यह संस्थान हमारे राज्य के लिए कैंसर के प्रबंधन में मील का पत्थर साबित होगा।

इस अवसर पर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य एवं  ब्रजेश पाठक  केंद्र सरकार में राज्‍यमंत्री कौशल किशोर, प्रदेश सरकार में मंत्री स्वतन्त्र देव सिंह, राज्‍यमंत्री संदीप सिंह, राज्‍यमंत्री मयंकेश्ववर शरण सिंह, सांसद राजवीर सिंह, लखनऊ की महापौर संयुक्ता भाटिया, विधायक मोहनलाल गंज अमरेश कुमार रावत, विधायक सरोजनी नगर राजेश्वर सिंह, विधायक लखनऊ उत्‍तर डॉ नीरज वोरा, विधायक लखनऊ पूर्व आशुतोष टंडन, विधायक बख्‍शी का तालाब योगेशशुक्ला, विधायक मलिहाबाद जयदेवी, चिकित्‍सा प्रकोष्‍ठ भाजपा लखनऊ के संयोजक डॉ शाश्‍वत विद्याधर सहित अनेक भाजपा नेता उपस्थित रहे।

ज्ञात हो यह संस्थान उत्तर भारत का एकमात्र ऐसा संस्थान है जो कि कैंसर की बीमारी से ग्रसित मरीजों के उपचार के लिए राज्य सरकार द्वारा वर्ष 2016 मे स्थापित किया गया था। यह 734 बिस्तरों की क्षमता वाला संस्थान है। अस्पताल से संबंधित विभिन्न सेवाओं को पूरा करने के लिए 13 प्रमुख बिल्डिंग ब्लॉक्स बनाए गए हैं। संस्थान के सभी 13 ब्लॉक 100 एकड़ भूमि में फैले हुए हैं। मुख्य बिल्डिंग में स्थित ब्‍लॉक्‍स में 539 बिस्तर भर्ती के लिए तथा 110 बिस्‍तरों वाला ऑपरेशन थियेटर है। इसके अतिरिक्‍त्‍ ओपीडी ब्‍लॉक में 53 बिस्‍तर तथा रेडियो ऑन्‍कोलॉजी के 33 बिस्‍तरों वाला ब्‍लॉक शामिल है।

इस संस्थान में कैंसर ग्रस्त मरीजों को रेडियोथेरेपीदेने के लिये अत्याधुनिक 06 लीनियर एक्सीलिरेटर का प्राविधान है,  जिसमें से 02 लीनियर एक्सीलिरेटर चालू हैं जिनपर प्रतिदिन 90 से 100 मरीजों को प्रतिदिन रेडियोथेरेपीदी जा रही है।

इसके अतिरिक्‍त इस संस्थान में 24 अत्याधुनिक मोडुलर ऑपरेशन थियेटर लगभग पूर्ण अवस्था में है, जिसमें से वर्तमान में 8 अत्याधुनिक मोडुलर ऑपरेशन थियेटर बनकर तैयार हैं तथा 2 ऑपरेशन थियेटर पूर्णतः क्रियाशील हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

17 + four =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.