लखनऊ में स्वाइन फ्लू के 76 नये मामले सामने आये, अब तक 489 रोगी

कॉलोनियों से लेकर मोहल्लों तक में बढ़ रहे स्वाइन फ्लू के रोगी

लखनऊ। स्वाइन फ्लू का कहर जारी है, राजधानी के विभिन्न क्षेत्रों से 76 नये केस मिले हैं इस प्रकार इस साल स्वाइन फ्लू से ग्रस्त होने वालों की संख्या बढक़र 489 हो गयी है जबकि 5 लोगों की मौत हो चुके हैं।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ जीएस बाजपेई द्वारा दी गयी सूचना के अनुसार नये मिले केसेज हजरतगंज, चारबाग, राजाजीपुरम, अमीनाबाद, इंदिरा नगर, गोमती नगर, आलमबाग-अमौसी, रायबरेली रोड, चौक, अलीगंज, कानपुर रोड एलडीए कॉलोनी आदि क्षेत्रों से हैं।

ज्ञात हो स्वाइन फ्लू के कीटाणु हवा में उडक़र इन्फेक्शन फैलाते हैं इसलिए अत्यन्त सावधानी की आवश्यकता होती है। चिकित्सकों के अनुसार अगर एक ही घर में अगर किसी को एच1एन1 हो गया तो यह बहुत आवश्यक है कि रोगी को आइसोलेट कर दिया जाये। उन्होंने बताया कि होता यह भी है कि इसके शुरुआती लक्षण खांसी, जुकाम होने पर ही अगर सावधानी बरती जाये तो दूसरे को संक्रमण की संभावना समाप्त हो जाती है। यह आवश्यक नहीं है कि खांसी-जुकाम वाले सभी व्यक्तियों को स्वाइन फ्लू हो लेकिन चूंकि स्वाइन फ्लू के शुरुआती लक्षण भी खांसी जुकाम होता है इसलिए जरूरी है खांसते-छींकते समय रोगी मुंह पर रूमाल लगा ले, दूसरों से हाथ न मिलाये, अपने हाथों को थोड़ी-थोड़ी देर पर धोते रहे तो दूसरों को संक्रमण से बचा जा सकता है।