Thursday , December 1 2022

केजीएमयू के 60 और लोगों ने ली सांसों की डोर टूटने न देने की ट्रेनिंग

-अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन के तत्‍वावधान में अब तक 5000 से ज्‍यादा लोगों को दी जा चुकी है बीएलएस-एएलएस ट्रेनिंग

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय में अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन के तत्‍वावधान में बेसिक लाइफ सपोर्ट एवं एडवांस लाइफ सपोर्ट ट्रेनिंग का शुभारंभ किया गया। इस ट्रेनिंग में आज केजीएमयू के मेडिसिन, डेंटल, पीडियाट्रिक, डेंटल, एंडोक्राइन, मेन्टल हेल्थ, रेस्पिरेटरी मेडिसिन, क्वीन मेरी व नर्सिंग एवं मुख्य डिपार्टमेंट के रेसिडेंट डॉक्टरों ने भाग लेकर 60 डॉक्टरों ने ट्रेनिंग प्राप्त की। इस उच्च स्तरीय ट्रेनिंग को प्राप्त करके चिकित्सा विश्विद्यालय में आने वाले सभी क्रिटिकली बीमार मरीज लाभान्वित होंगे।  

केजीएमयू के मीडिया प्रवक्‍ता सुधीर सिंह द्वारा जारी विज्ञप्ति के अनुसार कार्यक्रम का शुभारंभ किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति ले0जन0बिपिन पुरी ने किया। उद्घाटन समारोह में चिकित्सा विश्‍वविद्यालय की डीन प्रोफेसर उमा सिंह एवं डीन डेंटल डॉ0 रंजीत कुमार उपस्थित रहे। इस कार्यक्रम का आयोजन एनस्थीसियोलाजी एवं क्रिटिकल केयर डिपार्टमेंट की प्रोफेसर रजनी गुप्ता ने किया। प्रोफेसर रजनी गुप्ता इंटरनेशनल ट्रेनिंग की इंचार्ज हैं। वह यह कार्यक्रम पिछले 10 वर्षों से चिकित्सा विश्वविद्यालय में करवा रही हैं।

अभी तक इस इंटरनेशनल ट्रेनिंग सेंटर, केजीएमयू द्वारा 5000 से ज्यादा लोग ट्रेनिंग ले चुके हैं। इस ट्रेनिंग सेंटर के माध्यम से उत्तर प्रदेश के सभी मेडिकल कॉलेज लाभान्वित हो रहे हैं। इस ट्रेनिंग में उच्च स्तर के जो ट्रेनर उपस्थित रहे, उनमें डॉ प्रेमराज, डॉ संदीप साहू, डॉ चेतना शमशेरी, डॉ दिव्या श्रीवास्तव, डॉ रीतू वर्मा, डॉ मेधवी व डॉ राम नरेश उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

1 × one =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.