स्वास्थ्य विभाग में कहीं एक तो कहीं दो माह का वेतन बकाया, आंदोलन की चेतावनी

सुनील यादव

लखनऊ। चिकित्सा विभाग के अधिकांश कर्मचारियों को अब तक जनवरी माह का वेतन नहीं मिल सका है, जबकि फरवरी माह भी खत्म हो रहा है। इसे लेकर कर्मचारियों में काफी रोष है, उन्होंने चेतावनी दी है कि अगर शीघ्र वेतन न मिला तो आंदोलन का रास्ता चुनने को बाध्य होना पड़ेगा।
राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के उपाध्यक्ष सुनील यादव ने बताया कि विभाग के अधिकारी पूरी तरह से लापरवाही बरत रहे हैं यही वजह है कि हम कर्मचारियों को अब तक वेतन नहीं मिल सका है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में कुछ स्थानों पर तो अभी दिसम्बर माह का ही वेतन नहीं मिला है, जिससे कर्मचारियों में रोष व्याप्त है । उन्होंने बताया कि वेतन न मिलने का कारण पूछने पर पता चला है कि मानव सम्पदा में कर्मचारियों की इंट्री का कार्य अभी पूरा न होने के कारण वेतन नहीं दिया गया है। श्री यादव का कहना था कि डाटा एंट्री का कार्य का बहाना लेकर वेेतन न दिया जाना कर्मचारियों का शोषण है।
उन्होंने मांग की कि 13 मार्च को होली है, इसके पूर्व बकाया वेतन के साथ ही फरवरी का भी वेतन मिल जाना चाहिए। उन्होंने चेतावनी दी है कि अगर इस हफ्ते वेतन नहीं मिलता है तो चिकित्सा कर्मचारी आंदोलन का रास्ता चुनेंगे ।