Wednesday , November 30 2022

गडकरी के ट्वीट से उत्‍साहित फार्मासिस्‍ट बोले, मौका मिले तो बना सकते हैं सैनिटाइजर

-गडकरी ने की है फार्मासिस्‍टों की तारीफ, फार्मासिस्‍टों ने जताया आभार

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। भारत सरकार के सड़क परिवहन और राजमार्ग, जहाज़रानी,  जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण मंत्री नितिन गडकरी ने कोविड-19 से लड़ने में महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन करने के लिए देश के फार्मेसिस्टों का धन्यवाद दिया।

उन्होंने ट्वीट कर कहा कि कोरोना के विरुद्ध लड़ाई में ‘फार्मेसिस्ट’ हमारी मेडिकल सपोर्ट टीम की रीढ़ की हड्डी के रूप में कार्य कर रहे हैं। वे निरंतर प्रयास और निस्वार्थ समर्पण से हर दिन लोगों के जीवन को बचा रहे हैं।  मैं देश के लिए उनकी अमूल्य सेवा के लिए उन्हें धन्यवाद देता हूं।

उत्तर प्रदेश फार्मेसी काउंसिल के पूर्व चेयरमैन एवं राजकीय फार्मेसिस्ट महासंघ के अध्यक्ष सुनील यादव ने मंत्री का धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि देश के फार्मेसिस्ट इस संकट की घड़ी में देश की जनता के साथ खड़े हैं। फार्मास्यूटिकल वैज्ञानिक जहां औषधियों की खोज और अन्य अनुसंधान में लगे हैं, वहीं हमारे इंडस्ट्रियल फार्मेसिस्ट औषधियों एवं औषधीय सामग्री के निर्माण में जी-जान से जुटे हैं, जिससे देश में औषधियों एवं अन्य सामग्रियों की कमी ना होने पाए। वहीं क्लीनिकल एवं हॉस्पिटल फार्मासिस्ट चिकित्सालयों में औषधियों एवं औषधीय सामग्री की उपलब्धता सुनिश्चित करा रहे हैं तथा मरीजों तक पहुंचा रहे हैं। उन्होंने बताया कि आवश्यक सामग्री उपलब्ध कराई जाये तो हर चिकित्सालय में फार्मेसिस्ट कम खर्च में उच्च गुणवत्ता का सेनिटाइजर बना लेंगे जिससे इस संकट की घड़ी में इसकी कमी ना होने पाए। कुछ चिकित्सालयो में सेनिटाइजर बनाया भी गया है ।

चिकित्सालय में कार्यरत फार्मेसिस्ट इमरजेंसी टीम का भी हिस्सा है तथा कोविड-19 से लड़ने वाली मेडिकल टीम में प्रमुख रूप से अपनी सहभागिता कर रहे हैं। प्रदेश के सभी चिकित्सालयों की आपातकालीन सेवाओं में फार्मेसिस्टों की महत्वपूर्ण भूमिका है, ग्रामीण चिकित्सालयों में फार्मेसिस्ट एक प्रबंधक के रूप में चिकित्सालय की हर महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वाह करता है। औषधि भंडारण वितरण के साथ चिकित्सालयो की इमरजेंसी सेवाओ में फार्मेसिस्ट 24 घंटे लगा हुआ है, लेकिन दुर्भाग्य से फार्मेसिस्ट की महत्वपूर्ण सेवाओं को सही पहचान व सही महत्व नहीं मिलता, लेकिन गडकरी जी ने फार्मेसिस्ट संवर्ग का धन्यवाद ज्ञापित कर इस महत्वपूर्ण संवर्ग को महत्व दिया है, इसलिए देश का हर फार्मेसिस्ट उन्हें आभार प्रकट करता है।

श्री यादव ने बताया कि देश के प्रधानमंत्री को भी महासंघ ने धन्यवाद देते हुए कहा है कि देश के 11 लाख से अधिक फार्मेसिस्ट इस महामारी से लड़ने को संकल्पित हैं। देश मे जो लाखों फार्मेसिस्ट का उपयोग सरकार किसी भी स्तर पर कर सकती है। ग्रामीण क्षेत्रों के उपकेंद्रों पर  इनको तैनात कर देने से इस रोग से लड़ने में आशातीत सफलता मिल सकती है। फार्मेसिस्ट इस देश के प्रत्येक नागरिक के साथ खड़े है, हमें आशा है कि हम जल्द ही कोविड-19 से देश की जनता को मुक्त करा लेंगे ।

फेडरेशन ऑफ इंडियन फार्मेसिस्ट फेडरेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष के के सचान, महासंघ के महासचिव अशोक कुमार, वरिष्ठ उपाध्यक्ष जे पी नायक, उपाध्यक्ष ओ पी सिंह, जिला अध्यक्ष एस एन सिंह, सचिव जी सी दुबे सहित अनेक पदाधिकारियों ने भी श्री गडकरी को धन्यवाद दिया है ।