ट्रॉमा सेंटर के इमरजेंसी मेडिसिन विभाग में 6 वेंटीलेटर की यूनिट भी चालू

तेजी से पटरी पर लौट रही ट्रॉमा सेंटर में व्यवस्था की गाड़ी

लखनऊ। किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय केजीएमयू के ट्रॉमा सेन्टर में शनिवार को आग लगने के कारण पटरी से उतरी व्यवस्थाओं की गाड़ी तेजी से ट्रैक पर आ रही है हालांकि अभी पूरी तरह स्थितियां सामान्य नहीं हुई हैं लेकिन एक बड़ी सुविधा मंगलवार को जरूर शुरू हो गयी है इसके तहत यहां स्थित इमरजेंसी मेडिसिन विभाग में क्रिटिकल मरीजों के लिए 6 वेंटीलेटर की यूनिट फिर से शुरू कर दी गयी है। इसमें गंभीर मरीजों को भर्ती किया जा रहा है।
ज्ञात हो इमरजेंसी मेडिसिन विभाग बीमारी और दुर्घटना से ग्रस्त उन सभी मरीजोंं का इलाज करता है जो अत्यंत गंभीर स्थिति में होते हैं। इस बारे में इंचार्ज डॉ हैदर अब्बास ने बताया कि इमरजेंसी मेडिसिन विभाग में छह वेंटीलेटर वाली यूनिट ने सुचारु रूप से कार्य करना शुरू कर दिया है। डॉ हैदर अब्बास ने बताया कि खिड़कियों में शीशे आदि भी लग रहे हैं। उन्होंने बताया कि इसके अतिरिक्त ट्रॉमा सेंटर में मिलने वाली सभी सुविधाएं तेजी से सामान्य हो रही हैं, शीघ्र ही ट्रॉमा सेंटर अपनी पुरानी रंगत में लौट आयेगा।
केजीएमयू प्रशासन की ओर से बताया गया है कि रात 12 बजे से सायं 6 बजे तक कुल 110 मरीज पंजीकृत हुए और 77 मरीजों की भर्ती की गयी। इसके अतिरिक्त 10 ऑपरेशन भी हुए इनमें ऑर्थो की 3, न्यूरो सर्जरी 3 तथा जनरल सर्जरी 6 हुई हैं।