Thursday , October 28 2021

चिकित्‍सकों की सेवानिवृत्ति की आयु 70 वर्ष करने पर गंभीरता से विचार

उत्‍तर प्रदेश शासन ने लम्बित प्रकरण पर विचार के लिए 25 अप्रैल को बुलायी बैठक

लखनऊ। उत्‍तर प्रदेश सरकार प्रांतीय चिकित्‍सा सेवा के चिकित्‍साधिकारियों की सेवानिवृत्ति की आयु 62 वर्ष से बढ़ा कर सीधे 70 वर्ष किये जाने पर विचार कर रही है। उम्‍मीद है इस पर शीघ्र ही कोई फैसला लिया जायेगा। इस प्रकरण पर विचार के लिए गुरुवार को शासन में बैठक बुलायी गयी है।

 

आपको बता दें कि उत्‍तर प्रदेश में चिकित्‍सकों की भारी कमी को देखते हुए सरकार ने कई कदम उठाये लेकिन फि‍र भी अपेक्षित फर्क नहीं आया। इसी परेशानी से उबरने के लिए शासन में यह प्रकरण आया कि फि‍लहाल डॉक्‍टरों की कमी पूरी करने के लिए चिकित्‍सकों की सेवानिवृत्ति की आयु जो वर्तमान में 62 वर्ष है, उसे बढ़ाकर 70 वर्ष कर दिया जाये।

 

सूत्रों के अनुसार इस विचाराधीन प्रकरण पर विचार-विमर्श करने के लिए शासन ने 25 अप्रैल को बैठक बुलायी है। इस बैठक में चिकित्‍सा एवं स्‍वास्‍थ्‍य के महानिदेशक, परिवार कल्‍याण के महानिदेशक, चिकित्‍सा एवं स्‍वास्‍थ्‍य के निदेशक प्रशासन, अपर निदेशक कार्मिक के अलावा प्रांतीय चिकित्‍सा सेवा संघ के अध्‍यक्ष व महामंत्री को आमंत्रित किया गया है।