जीवन में कुछ अच्छा पाने का रास्ता लक्ष्य और जुनून से होकर गुजरता है

केजीएमयू में ‘Secret of Success- Scratch to Zenith’  पर अतिथि व्याख्यान

लखनऊ। जीवन में सफलता पाने के लिए अपने भविष्य के बारे में सोचें, जब तक आप को अपने लक्ष्य के बारें में पता नहीं होगा तब तक आप कैसे उसे पा सकेंगे।

सफलता का यह मंत्र अतिथि व्याख्यान देते हुए चंदन हेल्थ केयर के चेयरमेन एवं प्रबंध निदेशक डाॅ0 अमर सिंह  ने दिया। डॉ अमर सिंह आज 20 जुलाई को किंग जार्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय के कलाॅम सेंटर में केजीएमयू इंस्टीट्यूट आॅफ पैरामेडिकल साइंसेज के तत्वावधान में  ‘Secret of Success- Scratch to Zenith’  पर अतिथि व्याख्यान में बोल रहे थे।  डाॅ0 अमर सिंह द्वारा अपने जीवन के संघर्षो का उदाहरण देते हुए इस विषय पर प्रकाश डाला गया। डाॅ0 सिंह ने कहा कि सफलता पाने के लिए सबसे जरूरी है कि हम उसके बारे में सोचें और उसके लिए जो आवश्यक हो वो कार्य करें। हमे निर्णय लेना होगा कि हमेें ये वस्तु या ये पोजीशन पाना है हम इसे पाये बिना रह नहीं सकते तब जाकर वो वस्तु या वो पोजीशन हमें प्राप्त होती है। उन्होंने कहा कि सोचना ही है तो बड़ा सोचें क्योंकि जब कोई वस्तु या पोजीशन हमें मिलनी है जिसके लिए हम प्रयास कर रहें तो वो बड़ा क्यों ना हो। आपको अपने मस्तिष्क और मन से बंधन को हटाना पड़ेगा।

उन्होंने कहा कि हम जीवन में जो चाहें वो कर सकते है बस जरूरत है सही राह पर बिना डरे चलने की। हमें अपनी असफलताओं से डरना नही है। जीवन में बार-बार असफलता मिलती है किंतु हमे उन असफलताओं से घबराए बिना आगे बढ़ना होगा तब जाकर  सफलता मिलती हैं। सबके लिए सफलता के अलग-अलग मायने होते है, आप अपनी जिंदगी में क्या चाहते है ये आपको तय करना पड़ेगा किन्तु ये जान लें जो भी आप अपने लिए चाहते हैं उसे पाने के लिए असफलताओं से बिना घबराएं अपने पथ पर आगे बढ़ते रहें।

डॉ सिंह ने कहा कि सफलता का कोई छोटा रास्ता नहीं होता उसके लिए हमेशा कठिन रास्तों पर चलना पड़ता है। जब तक जीवन है तब तक संघर्ष है, हमें  संघर्ष को अपना मित्र बनाना पड़ेगा। हार्ड वर्क ही सबसे अच्छा टैलेंट है। जहां रास्ते खत्म हो जाते हैं, वहीं से हमें नई शुरुआत करनी चाहिए। कभी भी हार मत मानों। हमेशा जिन व्यक्त्यिों से प्रेरणा मिलती है हमे उनकी संगत करना चाहिए। सफलता में व्यक्तित्व का अहम रोल है इसलिए हमें अपना व्यक्तित्व हमेशा अच्छा और उच्च रखना चाहिए।

कार्यक्रम में प्रो0 विनोद जैन अधिष्ठाता पैरामेडिकल संकाय द्वारा विद्यार्थियों को सम्बोधित करते हुए कहा गया कि जीवन में सफलता पाने के लिए हमें अपने उद्देश्य को निश्चित करना पड़ेगा कि हमें जीवन में यहां तक पहुंचना है फिर उसके लिए हमे सही रास्ते को भी चुनना पड़ेगा तथा लगातार उस रास्ते पर चलते रहना पड़ेगा। जीवन मे जो लोग असफलताओं से घबरा कर रुक जाते हैं वो कभी भी सफल नहीं हो पाते हैं।