एचडीएफसी का तिमाही लाभ 18.04 प्रतिशत बढ़ा

लखनऊ । निजी क्षेत्र के एचडीएफसी बैंक का एकीकृत शुद्ध मुनाफा चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में 18.04 प्रतिशत बढ़कर 5,676.06 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। बैंक ने शनिवार को निदेशक मंडल की बैठक के बाद बीएसई को बिना ऑडिट के तिमाही परिणाम के बारे में जानकारी दी।

उसने कहा कि पिछले वित्त वर्ष की इसी तिमाही में उसका एकीकृत शुद्ध मुनाफा 4,808.35 करोड़ रुपये रहा था। बैंक ने बताया कि इस दौरान उसकी एकीकृत कुल आय पिछले वित्त वर्ष के 28,000.06 करोड़ रुपये की तुलना में 22.59 प्रतिशत बढ़कर 34,324.45 करोड़ रुपये पर पहुंच गयी।

बैंक ने बताया कि समीक्षाधीन अवधि के दौरान उसका एकल मुनाफा 21 प्रतिशत बढ़कर 5,568.16 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। बैंक की एकल आय भी इस दौरान 22.73 प्रतिशत बढ़कर 32,361.84 करोड़ रुपये पर पहुंच गयी। बैंक ने बताया कि इस दौरान उसकी परिसंपत्ति की गुणवत्ता में गिरावट आयी है। बैंक की एकीकृत गैर निष्पादित परिसंपत्ति (एनपीए) 1.33 प्रतिशत से बढ़कर 1.40 प्रतिशत पर पहुंच गयी। उसका शुद्ध एनपीए भी 0.41 प्रतिशत बढ़कर 0.43 प्रतिशत पर पहुंच गया।

एनपीए के लिये बैंक का प्रावधान भी 1,629.37 करोड़ रुपये से बढ़कर 2,613.06 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। बैंक के निदेशक मंडल ने वित्त वर्ष 2019-20 के लिये शेयरधारकों को दो रुपये अंकित मूल्य के प्रति शेयर पर पांच रुपये का विशेष अंतरिम लाभांश देने की सिफारिश की।