गर्ल फ्रेंड से ब्रेकअप जैसी समस्‍यायें छात्रों को बना रहीं मानसिक रोगी

25 वर्ष की आयु के 40 प्रतिशत, 14 वर्ष की आयु के 25 प्रतिशत छात्र मानसिक परेशानियों के शिकार

 

लखनऊ। एक छात्र की समस्‍या …मेरा मेरी गर्ल फ्रेंड से ब्रेकअप हो गया है, इसीलिए मैं परेशान हूं, दूसरे छात्र की समस्‍या … मेरे क्‍लास में मेरे सभी दोस्‍तों की गर्ल फ्रेंड हैं, मैं ही अकेला ऐसा हूं जिसके पास गर्ल फ्रेंड नहीं है। ये वे चन्‍द समस्‍यायें हैं जिनकी गिरफ्त में आज हमारा युवा फंसता जा रहा है।

 

सुनने में यह भले ही अजीब लगे लेकिन है बहुत बड़ी समस्‍या, सर्वाधिक चिंता की बात यह है कि आज हमारा युवा मानसिक रोगों का शिकार हो रहा है। क्‍योंकि इसी युवा को आगे चलकर व्‍यक्तिगत स्‍तर पर और सामाजिक स्‍तर पर कार्य करने की जिम्‍मेदारी है। 25 साल की उम्र वाले 40 प्रतिशत लोगों को समस्‍यायें शुरू हो जा रही हैं यही नही सिर्फ 14 साल तक की उम्र वाले 25 प्रतिशत बच्‍चे मानसिक समस्‍याओं से ग्रस्‍त पाये जा रहे हैं। इसके कारणों में रिलेशन ब्रेकअप या स्‍टडी फेल्‍योर जैसे कारण सामने आ रहे हैं।  ऐसे ही अनेक ज्‍वलंत मुद्दे हैं जिन पर विचार करने और अपने-अपने विचारों, स्‍टडीज, शोध को साझा करने के लिए दुनिया भर के मनोचिकित्‍सकों का उत्‍तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में 31 जनवरी से 3 फरवरी तक चार दिन के आयोजित हो रहे महाकुंभ में दुनिया भर के करीब 3000 डॉक्‍टर विचार-चर्चा के सागर में डुबकी लगायेंगे। इंडियन साइकियेट्रि‍क सोसाइटी के 71वें वार्षिकोत्‍सव के मौके पर यह चार दिवसीय कॉन्‍फ्रेंस गोमती नगर स्थित इंदिरा गांधी प्रतिष्‍ठान में आयोजित की जा रही है।

 

इस कॉन्फ्रेन्‍स के बारें में जानकारी देने के लिए बुधवार का एक पत्रकार वार्ता का आयोजन किया गया। केजीएमयू के मानसिक रोग विभाग के हेड तथा आयोजन अध्‍यक्ष प्रो पीके दलाल व नूरमंजिल साइकिया‍ट्रि‍क सेंटर के डॉ हेमंत नायडू इस आयोजन के सचिव हैं, ने बताया कि सम्‍मेलन का विषय ‘मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य-देश की पूंजी’ है। उन्‍होंने बताया कि इंडियन साइकिया‍ट्रि‍क सोसाइटी के नये अध्‍यक्ष अहमदाबाद के डॉ मृगेश वैष्‍णव अपने अध्‍यक्षीय भाषण में यौन मामलों, प्रेम और निजी सम्‍बन्‍धों पर जानकारी देंगे। डॉ वैष्‍णव यौन स्‍वास्‍थ्‍य के निजी संबंधों और जीवन की गुणवत्‍ता पर इसके प्रभाव के बारे में बात करेंगे जो एक व्‍यक्ति के मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य का हिस्‍सा है।

 

उन्‍‍होंने बताया कि सम्‍मेलन का खास आकर्षक वर्ल्‍ड साइकिया‍ट्रि‍क एसोसिएशन की अध्‍यक्ष ऑस्‍ट्रेलियाई मनोचिकित्‍सक डॉ हेलेन हरमैन हैं जो सम्‍मेलन में युवा मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य के क्षेत्र में नयी चुनौतियों और युवा मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य के लिए एक वैश्विक साझेदारी विकसित करने के बारे में बात करेंगी। सम्‍मेलन में अमेरिकी मनोचिकित्‍सक संघ के डायरेक्‍टर डॉ सॉल लेविन, रॉयल कॉलेज ऑफ साइकियाट्रि‍स्‍ट लंदन के डीन डॉ एड्रि‍यन जेम्‍स, इजराजयल के मनोचिकित्‍सक डॉ जोसेफ जौहर सहित देश-विदेश के अनेक मनोचिकित्‍सक भाग ले रहे हैं।