Thursday , November 11 2021

सलाम इंडिया : नौ माह में 100 करोड़, यूपी की हिस्‍सेदारी 12 करोड़

-देश में 100 करोड़ लोगों को कोविड टीकाकरण का आंकड़ा पार  

-12.21 करोड़ डोज लगाकर उत्‍तर प्रदेश ने निभायी जिम्‍मेदारी

-देश-प्रदेश में खुशियों का माहौल, कोविड वारियर्स को बधाइयां

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। गुरुवार की सुबह उत्‍तर प्रदेश सहित पूरे भारत के लिए ढेर सारी खुशियाँ लेकर आयी, जब देश कोविड टीकाकरण के 100 करोड़ के आंकड़े को पार कर गया। बीते 9 माह में 100 करोड़ के विशाल लक्ष्य की इस बेमिसाल उपलब्धि में उत्तर प्रदेश ने करीब 12.21 करोड़ टीके की डोज लगाकर एक बड़ी जिम्मेदारी निभायी है। देश के सबसे बड़े राज्य होने के नाते यूपी को सबसे आगे रहने की जिम्मेदारी का पूरा एहसास था, इसीलिए सभी के सम्मिलित प्रयास से यह मुकाम आसानी से हासिल हो गया और अब शत-प्रतिशत टीकाकरण की दिशा में भी कदम बढ़ चुके हैं।  

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन उत्तर प्रदेश के महाप्रबन्धक – टीकाकरण डॉ. मनोज कुमार शुकुल का कहना है कि देश के 100 करोड़ टीकाकरण के विशाल लक्ष्य में अन्य राज्यों के मुकाबले उत्तर प्रदेश ने बड़ी जिम्मेदारी निभाई है। इसमें जहां स्वास्थ्य कर्मियों व फ्रंटलाइन वर्कर ने दिन रात अथक मेहनत की वहीँ जब जिसकी बारी आई तब सभी ने अपनी जिम्मेदारी निभाई, जिससे यह बड़ा लक्ष्य आसान बन गया। उनका कहना है कि अब पूरा प्रयास है कि टीकाकरण की श्रेणी में आने वाली प्रदेश की शत-प्रतिशत आबादी का जल्द से जल्द टीकाकरण पूरा किया जाए। आंकड़ों के मुताबिक़ प्रदेश की 18 साल से अधिक की करीब 14.74 करोड़ की आबादी के टीकाकरण का लक्ष्य है। इसमें करीब 64 फीसद आबादी यानि लगभग 9.43 करोड़ को कोविड टीके की पहली डोज और करीब 2.78 करोड़ को दूसरी डोज लग चुकी है। इस तरह कुल मिलाकर अब तक करीब 12.21 करोड़ टीके की डोज लग चुकी हैं।

इसी साल 16 जनवरी से शुरू हुए कोविड टीकाकरण के पहले चरण में प्रदेश के करीब 10.09 लाख हेल्थ केयर वर्कर को कोविड का टीका लगना था, जिसमें करीब 9.77 लाख को पहली डोज और इनमें करीब 8.50 लाख को दोनों डोज लग चुकी हैं। इसी तरह दूसरे चरण में करीब 10.43 लाख फ्रंटलाइन वर्कर का टीकाकरण किया जाना था जिसमें 10.34 लाख को पहली डोज लग चुकी है और इनमें करीब 8.10 लाख ने दोनों डोज का लाभ प्राप्त कर लिया है। इसके अलावा 18 से 45 साल आयुवर्ग के करीब 9.97 करोड़ की आबादी में 5.73 करोड़ को पहली डोज और इनमें 1.23 करोड़ को दोनों डोज लग चुकी है। इसी तरह 45 से 60 साल आयुवर्ग की करीब 2.89 करोड़ की आबादी में 2.22 करोड़ को पहली डोज और इनमें करीब 84 लाख को दोनों डोज लग चुकी है। इसी तरह कोविड के लिहाज से सबसे अधिक जोखिम की श्रेणी में आने वाले 60 साल से अधिक के 1.87 करोड़ बुजुर्गों में से 1.27 करोड़ ने पहली डोज और इनमें से करीब 54 लाख ने दोनों डोज की सुविधा प्राप्त की है।

टीकाकरण की रफ्तार जारी रखने की आवश्‍यकता

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन उत्तर प्रदेश के कोविड टीकाकरण के ब्रांड एम्बेसडर व किंग जार्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय के रेस्परेटरी मेडिसिन विभाग के अध्यक्ष डॉ. सूर्यकान्त का इस बेमिसाल उपलब्धि पर कहना है कि अभी टीकाकरण की रफ़्तार को बनाए रखने की जरूरत है क्योंकि कोरोना से समुदाय को सुरक्षित बनाने का यह सबसे कारगर हथियार है। उन्होंने टीकाकरण के साथ ही त्योहारों पर कोविड प्रोटोकाल के पूर्ण पालन की भी अपील की है।           

सीफार ने चलाया हस्ताक्षर अभियान

कोविड टीकाकरण के 100 करोड़ के जादुई आंकड़े को पार करने की खबर आते ही गुरुवार की सुबह से प्रदेश में जश्न का माहौल देखने को मिला। प्रदेश के सभी मेडिकल कॉलेज, जिला अस्पतालों व स्वास्थ्य केन्द्रों पर स्वास्थ्य कर्मियों, फ्रंटलाइन वर्कर व जनप्रतिनिधियों ने एक दूसरे को बधाई देकर ख़ुशी का इजहार किया।

इसी क्रम में स्वयंसेवी संस्था सेंटर फॉर एडवोकेसी एंड रिसर्च (सीफार) ने प्रदेश के अधिकतर जिलों में हस्ताक्षर अभियान चलाकर इस बेमिसाल उपलब्धि पर स्वास्थ्य कर्मियों, फ्रंटलाइन वर्कर व जनसमुदाय को बधाई दी और आभार जताया कि सभी के सम्मिलित प्रयास से ही यह शुभ घड़ी आई है। सीफार ने मीडिया के प्रति भी आभार जताया और कहा कि जनसमुदाय तक उनके व्यापक प्रचार-प्रसार का ही नतीजा रहा कि देश इतने कम समय में इतने विशाल लक्ष्य को हासिल कर सका। मिर्जापुर में मंडलीय चिकित्सालय स्थित टीकाकरण केंद्र पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. प्रभु दयाल गुप्ता ने केक काटकर इस उपलब्धि का जश्न मनाया। इसके अलावा लखनऊ, वाराणसी, फर्रुखाबाद, इटावा और कन्नौज में भी सीफार ने इस उपलक्ष्य में हस्ताक्षर अभियान चलाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

two × 3 =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.