रॉयल कॉलेज ऑफ सर्जन आयरलैंड ने केजीएमयू को बनाया अपना केंद्र

तीन सदस्‍यीय टीम ने केजीएमयू पहुंचकर की औपचारिक मुलाकात

लखनऊ। रॉयल कॉलेज ऑफ सर्जन आयरलैंड उत्‍तर भारत में अपना केंद्र खोल रहा है इसके लिए उसने किंग जॉर्ज चिकित्‍सा विश्‍वविद्यालय (केजीएमयू) को चुना है। केजीएमयू में बुधवार को रॉयल कॉलेज ऑफ सर्जन, आयरलैंड की तीन सदस्यीय टीम जॉन मार्ले, डीन फैकल्‍टी ऑफ डेंटल साइंसेज, आरसीएसआई, सीन शेरिडन, इंटरनेशनल अफेयर एडवाइजर आरसीएसआई तथा यूनाइटेड किंगडम के मैक्सिलोफेशियल सर्जन टोनी मार्कस ने चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो एमएलबी भट्ट एवं अधिष्ठाता दंत संकाय डॉ शादाब मोहम्मद तथा सह-अधिष्ठाता क्वालिटी एंड प्लानिंग डॉ दिव्या मेहरोत्रा से केजीएमयू को उत्तर भारत में अपना केन्द्र बनाने के सन्दर्भ में औपचारिक भेंट की।

 

इस अवसर पर दोनों संस्थानों के द्वारा विचार विमर्श के उपरांत इस बात का निर्णय लिया गया कि प्रथम चरण में MFD RCSI Part I & Part ll की परीक्षा कराई जाएगी एवं इसके पश्चात Fellowship of Dentistry RCSI प्रदान की जाएगी। सह-अधिष्ठाता क्वालिटी एंड प्लानिंग डॉ दिव्या मेहरोत्रा ने बताया कि भारत में पढ़ाई कर रहे डेंटिस्ट को यह परीक्षा देने के लिए आयरलैंड नहीं जाना पड़ेगा। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि रॉयल कॉलेज ऑफ सर्जन, आयरलैंड द्वारा अपना दक्षिणी केन्द्र चेन्नई में भी खोलने पर विचार किया जा रहा है।