मुख्‍यमंत्री व चन्‍द लोगों की उपस्थिति में मनाया जायेगा पीजीआई का स्‍थापना दिवस समारोह

-संकाय सदस्यों, रेजिडेंट डॉक्टरों, विद्यार्थियों, अधिकारियों और स्टाफ को वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के जरिये जुड़ने की व्‍यवस्‍था

-14 दिसम्‍बर को आयोजित हो रहे स्‍थापना समारोह में आईसीएमआर के अध्‍यक्ष प्रो बलराम भार्गव देंगे व्‍याख्‍यान

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। संजय गांधी स्नातकोत्तर आयुर्विज्ञान संस्थान का स्‍थापना दिवस 14 दिसंबर को कोविड काल के साये में मनाया जा रहा है। सीमित संख्‍या में शामिल होने वाले लोगों के बीच मनाये जा रहे इस स्‍थापना दिवस समारोह के मुख्‍य अतिथि के रूप में मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ शामिल होंगे तथा स्थापना दिवस समारोह का व्याख्यान भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद नई दिल्ली के महानिदेशक एवं सचिव, स्वास्थ्य अनुसंधान, भारत सरकार, प्रोफेसर बलराम भार्गव द्वारा दिया जाएगा।

यह जानकारी संस्‍थान द्वारा जारी विज्ञप्ति में दी गयी है। ज्ञात हो वर्ष 1980 में 14 दिसम्‍बर को तत्कालीन राष्ट्रपति नीलम संजीव रेड्डी द्वारा संस्थान की आधारशिला रखी गई थी। कोविड महामारी को ध्यान में रखते हुए इस बार संस्थान का स्थापना दिवस सामाजिक दूरी के नियमों को ध्यान में रखते हुए मनाया जा रहा है। समारोह में शामिल होने वाले अतिथियों की संख्या भी सीमित होगी।  संस्थान के संकाय सदस्यों, रेजिडेंट डॉक्टरों, विद्यार्थियों, अधिकारियों और स्टाफ के लोगों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा इसमें सहभागिता के लिए आमंत्रण दिया गया है।

सर्वश्रेष्‍ठ चिकित्‍सक और सर्वश्रेष्‍ठ पैरामेडिकल स्‍टाफ को उत्तर प्रदेश सरकार के चिकित्सा शिक्षा, वित्त और संसदीय मामलों के मंत्री सुरेश खन्ना द्वारा सम्मानित किया जाएगा। इस अवसर पर प्रथम बार  उत्कृष्ट शोधकर्ताओं को शोध के क्षेत्र में उनके उत्कृष्ट योगदान के लिए सम्मानित किया जाएगा।