Saturday , September 4 2021

पीजीआई में छह विभागों के मरीजों को नहीं करना पड़ेगा भर्ती होने के लिए इंतजार

134 बेड के वार्डों के साथ ही सात अन्‍य परियोजनाओं का भी लोकार्पण

लखनऊ। संजय गांधी पीजीआई में रेडियोलॉजी, न्‍यूक्‍लीयर मेडिसिन, जेनेटिक्‍स, पालिएटिव केयर, ऑन्‍कोलॉजी और रेडियो थैरेपी विभागों में आने वाले मरीजों को उच्‍च्‍स्‍तरीय चिकित्‍सा बिना किसी प्रतीक्षा के उपलब्‍ध कराने के लिए उत्‍तर प्रदेश के चिकित्‍सा शिक्षा मंत्री आशुतोष टंडन द्वारा  बुधवार को 134 बेड के वार्डों का लोकार्पण किया गया। 1480 .77 करोड़ की लागत से तैयार इन छह विभागों के वार्डों को रिकॉर्ड कम समय में तैयार किया गया है।

 

इसके अलावा नयी सीटी स्‍कैन मशीन, बिजली व्‍यवस्‍था दुरुस्‍त करने के लिए 1112 किलोवाट का सोलर पावर प्‍लांट, आधुनिक सुविधाओं वाला पुस्‍तकालय, एपेक्‍स ट्रॉमा सेंटर में जलापूर्ति बेहतर करने के लिए नलकूप, सीबीएमआर में वीआईपी अतिथि गृह, संस्‍थान के कर्मियों के लिए टाइप 4 के मल्‍टीस्‍टोरी 40 भवन तथा विवाहित नर्सों के लिए 100 आवासों का भी लोकार्पण किया गया।

इस मौके पर आशुतोष टंडन ने नोएडा स्थि‍त सुपर स्‍पेशियलिटी बाल चिकित्‍सालय एवं शैक्षणिक संस्‍थान की 8 नयी परियोजनाओं को भी शिलान्‍यास किया। संस्‍थान के निदेशक प्रो राकेश कपूर ने सरकार द्वारा किये जा रहे निरंतर सहयोग के लिए आभार जताया। समारोह में नोएडा स्थि‍त सुपर स्‍पेशियलिटी बाल चिकित्‍सालय एवं शैक्षणिक संस्‍थान के निदेशक प्रो डीके गुप्‍ता, सीबीएमआर के डॉ राजा राय, एसजीपीजीआई के मुख्‍य चिकित्‍सा अधीक्षक प्रो अमित अग्रवाल, कुलसचिव प्रो सोनिया नित्‍यानंद, चिकित्‍सा अधीक्षक डॉ एके भट्ट सहित शासन और संस्‍थान के अनेक अधिकारी व संकाय सदस्‍य उपस्थित थे।

 

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com