Thursday , June 30 2022

पौष्टिक आहार लेते नहीं, उल्‍टा फास्‍ट फूड खाते हैं, ऊपर से…तो टीबी तो होगी ही…

-टीबी के रोगियों को केजीएमयू में वितरित किया गया पौष्टिक आहार

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। चेयरमैन, उ0प्र0 स्टेट टास्क फोर्स (क्षय नियंत्रण) एवं किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय के रेस्परेटरी मेडिसिन विभाग के विभागाध्‍यक्ष डॉ सूर्यकांत ने कहा है कि टी.बी.एक बैक्टीरिया के द्वारा होती है तथा यह रोग टी.बी. ग्रसित रोगी के खांसने से फैलता है। यह रोग उन्हीं लोगों को होता है जिनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होती हैं, कुपोषण के शिकार हैं, एनीमिया के शिकार हैं तथा पौष्टिक आहार न लेकर फास्ट फूड तथा नशे का सेवन करते हैं। डा0 सूर्यकान्त ने बताया कि यह बीमारी मलिन बस्तियों में ज्यादा होती हैं, जहां शुद्ध वायु व सूर्य का प्रकाश नहीं मिलता है।

डॉ सूर्यकांत ने यह बात आज केजीएमयू के रेस्‍परेटरी विभाग में टीबी रोग में पंजीकृत एवं उपचार ले रहे 18 वर्ष तक के टी.बी. पीड़ित बच्चों के लिए पौष्टिक आहार वितरण एवं प्रोत्साहन समारोह में पौष्टिक आहार का वितरण करने के बाद अपने सम्‍बोधन में कही। डा0 सूर्यकान्त ने बताया कि लखनऊ में उ0 प्र0 का पहला टी.बी0 मुक्त करने के लिए गांव तथा टी.बी. मुक्त पहली मलिन बस्ती पूर्व में ही गोद ली गयी है तथा 18 वर्ष तक के टी.बी. ग्रसित बच्चों को विभाग द्वारा उ0प्र0 की राज्यपाल आनन्दी बेन पटेल की प्रेरणा से लिया गया है।

इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के.जी.एम.यू. के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा0 एस. एन. संखवार ने कार्यक्रम के आयोजक डा0 सूर्यकान्त एवं रेस्परेटरी मेडिसिन विभाग को बधाई देते हुए कहा कि टी.बी. मुक्त भारत बनाने के लिए सभी को एक जुट होकर टी.बी. के खिलाफ कार्य करना होगा।

इस कार्यक्रम में सभी बच्चों एवं अभिभावकों को टी.बी. के बारे में विस्तृत जानकारी डा0 सूर्यकान्त के द्वारा प्रदान की गयी एवं जिन टी.बी. पीड़ित बच्चों का उपचार हो चुका है उन्हें स्टेशनरी, पेन, पेंसिल तथा बॉक्स देकर पुरस्कृत किया गया। इस अवसर पर टी.बी. के बच्चों को फल तथा अन्य पौष्टिक आहार का भी वितरण किया गया एवं शीघ्र स्वस्‍थ होने की ईश्वर से कामना की गयी।

डा0 सूर्यकान्त ने बताया कि प्रधानमंत्री द्वारा संचालित टी.बी.रोगियों को पोषण भत्ता के रूप में प्रत्येक माह 500 रुपये दिया जाता है तथा प्रधानमंत्री द्वारा टी.बी. मुक्त भारत का लक्ष्य भी वर्ष 2025 रखा गया है। इस अवसर पर ऑल इण्डिया पयामे इंसानियत फोरम के मौलाना अबुल कशिम तथा उनकी टीम के अन्य सदस्य उपस्थित रहे एवं कार्यक्रम में डा0 अजय वर्मा, डा0 दर्शन बजाज, डा0 शक्ति भूषण चन्द (वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी), टी.बी के समस्त कार्यकर्ता एवं डा0 आशीष नायक सचिव सोच फाउंडेशन, लखनऊ, सपना उपाध्याय (ईश्वर चाइल्ड वेलफेयर सोसाइटी) आदि लोग उपस्थित थे।