अब गृह कर जमा करने के लिए नहीं लगाने होंगे नगर निगम कार्यालयों के चक्‍कर

एचडीएफसी बैंक के साथ ऑनलाइन कर जमा करने के लिए करार

लखनऊ। अब लखनऊ नगर के मकानमालिकों को अपने गृह कर के भुगतान के लिए नगर निगम के कार्यालयों के चक्‍कर नहीं लगाने पड़ेंगे। नगर निगम और एचडीएफसी बैंक के बीच गृह कर जमा करने की सुविधा दिये जाने पर करार हुआ है। गुरुवार से शुरू हुई नयी सुविधा से घर बैठे भवन कर जमा करना आसान होगा।

एचडीएफसी बैंक ने लखनऊ नगर निगम के गृहकर दाताओं के लिए सुविधा स्थापित करने के लिए लखनऊ नगर निगम से साझेदारी की है। करदाता अब नकद या एचडीएफसी बैंक की चेक से पूरे भारत में एचडीएफसी की किसी भी शाखा में तुरंत और सुविधाजनक ढंग से काउंटर पर अपने गृहकर का भुगतान करने में सक्षम होंगे। एचडीएफसी बैंक के ग्राहक तथा ऐसे व्यक्ति जो एचडीएफसी बैंक के ग्राहक नहीं हैं (नकद) ठोस बैंक नेटवर्क के माध्यम से अपने गृहकर का भुगतान कर सकते हैं।बैंक जल्द ही ऑनलाइन पेमेंट गेटवे भी स्थापित करेगा।

लखनऊ में आयोजित एक कार्यक्रम में लखनऊ की मेयर संयुक्ता भाटिया और  नगर आयुक्त इंद्रमणि त्रिपाठी और उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के ब्रांच बैंकिंग हेड संजीव कुमार, एचडीएफसी बैंक द्वारा कर भुगतान सुविधा का उद्घाटन किया गया।

वर्तमान में, लखनऊ के निवासी डिमांड ड्राफ्ट, चेक, नकद या कार्ड के माध्यम से नगर निगम के क्षेत्रीय कार्यालयों में भौतिक रूप में कर का भुगतान करते हैं।

इस पहल से लखनऊ के मकान मालिकों को कर का भुगतान करने के लिए नगर निगम के कार्यालयों में आने तथा लाइन में खड़ा होने में लगने वाले समय में कमी आएगी। इससे ऐसे मकान मालिक जो लखनऊ से बाहर चले गये हैं, वे अपने पास के एचडीएफसी बैंक की शाखाओं में अपने कर का भुगतान कर सकेंगे।

संजीव कुमार ने कहा, कि हम लखनऊ नगर निगम के साथ इस पहल पर साझेदारी करके खुश हैं। यह भुगतान कार्यप्रणाली के विकास में एक बड़ा कदम है तथा इससे लखनऊ नगर निगम के करदाताओं को अपने नजदीक की शाखा में कर का भुगतान करने की सुविधा में बढ़ोत्तरी होगी।