115वीं बार रक्‍त देने वाले चीफ टेक्निकल ऑफीसर को सम्‍मानित किया नव वर्ष चेतना समिति ने

-नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर आयोजित विक्रमादित्‍य रक्‍तदान शिविर में 70 लोगों ने किया रक्‍तदान
संजय गांधी पीजीआई के चीफ टेक्निकल ऑफीसर डीके सिंह का सम्‍मान

 

लखनऊ। नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती के अवसर पर आज 23 जनवरी को नव वर्ष चेतना समिति के तत्वावधान में संजय गांधी पीजीआई के सहयोग से आशियान स्थित महाराणा प्रताप पब्लिक इंटर कॉलेज में सम्राट विक्रमादित्य रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया, इसमें 70 लोगों ने रक्‍तदान किया। रक्‍तदाताओं में संजय गांधी पीजीआई के चीफ टेक्निकल ऑफीसर डीके सिंह भी शामिल रहे, जिन्‍होंने आज 115वीं बार रक्‍तदान किया। इसके लिए उन्‍हें समिति द्वारा सम्‍मानित भी किया गया। उनके अलावा 49 बार रक्‍तदान करने वाले रोटेरियन अजय सक्‍सेना को भी सम्‍मानि‍त किया गया।

रोटेरियन अजय सक्‍सेना का सम्‍मान

शिविर का उद्घाटन लखनऊ विश्‍वविद्यालय के पूर्व कुलपति प्रो एसपी सिंह ने किया। अपने सम्‍बोधन में उन्‍होंने नेताजी सुभाष चंद्र बोस को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती के अवसर पर रक्‍तदान शिविर के आयोजन के मौके पर आज मुझे नेताजी का वह मशहूर नारा याद आता है कि तुम मुझे खून दो, मैं तुम्‍हें आजादी दूंगा। ऐसे वीर सपूतों पर देश को गर्व है, जिनकी वीरता ने हमें आजादी दिलायी, अब आजाद भारत में उनके नारे को याद करते हुए अब किसी की जान बचाने के लिए खून देना चाहिये।

नव वर्ष चेतना समिति के अध्‍यक्ष डॉ गिरीश गुप्‍ता ने इस मौके पर नेताजी को श्रद्धांजलि अपित करते हुए कहा कि भारत के इस वीर सपूत को नमन है। उन्‍होंने नव वर्ष चेतना समिति के बारे में जानकारी देते हुए सम्राट विक्रमादित्‍य को भी याद किया। उन्‍होंने सम्राट विक्रमादित्‍य से जुड़े किस्‍सों के बारे में उपस्थित लोगों को जानकारी भी दी।

इस मौके पर सम्‍मानित हुए डीके सिंह ने बताया कि पहली बार उन्‍होंने 31 अक्‍टूबर, 1984 को रक्‍तदान किया था, यह पूछने पर कि इसकी प्रेरणा आपको कैसे मिली तो उन्‍होंने बताया कि उस समय मैं केजीएमसी (अब केजीएमयू) में पैथोलॉजी लैब में ही कार्यरत था, वहां रक्‍तदान के लिए दूसरों को जागरूक करते-करते मन में आया कि मैं भी क्‍यों न रक्‍तदान करूं, बस उसी समय से जो सिलसिला शुरू हुआ वह आज भी जारी है, आज 115वीं बार रक्‍तदान किया है।

इस मौके पर रक्‍तदान शिविर के आयोजन सचिव एसजीपीजीआई के डॉ सुनील अग्रवाल ने रक्‍तदान शिविर में आये सभी रक्‍तदाताओं का आभार जताते हुए कहा आज आपने ऐसा दान किया है जिसे निर्मित नहीं जा सकता है, सिर्फ मानव शरीर से ही लिया जा सकता है। उन्‍होंने समारोह में उपस्थित महाराणा प्रताप पब्लिक इंटर कॉलेज के संस्‍थापक शेषनाथ सिंह को शिविर में सहयोग के लिए धन्‍यवाद दिया। इसके अलावा इस शिविर में गुरुकुल, मेधाज टेक्नो कॉन्सेप्ट प्राइवेट लिमिटेड, राष्ट्रीय एकता मिशन, आरोग्य भारती, सेवा भारती, दिव्य प्रेम सेवा मिशन, भारत विकास परिषद, विद्यावती नगर वार्ड 3 के सभासद कमलेश सिंह तथा श्री श्याम परिवार ने भी अपना सहयोग प्रदान किया।