Saturday , May 7 2022

केजीएमयू की पीआईसीयू को विश्‍वस्‍तरीय बनाने के लिए करार

कनाडा के एकेडमिक्स विदाउट बॉर्डर्स के साथ एमओयू पर हस्‍ताक्षर

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। चिकित्सा क्षेत्र में अनुभव, अनुसंधान एवं अत्याधुनिक जानकारी और अत्‍याधुनिक जानकारी के आदान-प्रदान के लिए किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय तथा कनाडा के एकेडमिक्स विदाउट बॉर्डर्स के बीच एक महत्वपूर्ण एमओयू (मेमोरेंडम ऑफ अंडरस्टैंडिंग) पर हस्ताक्षर किए गए। केजीएमयू की ओर से कुलपति प्रोफेसर एमएलबी भट्ट तथा एकेडमिक विदाउट बॉर्डर्स के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर ग्रेग मोरान ने समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं।

इस एमओयू के तहत पहला प्रोजेक्ट केजीएमयू के बाल रोग विभाग के बाल गहन चिकित्सा इकाई (पीआईसीयू) और यूनिवर्सिटी ऑफ मैनिटोबा  के बीच शुरू हुआ। इसके तहत यूनिवर्सिटी ऑफ मैनटोबा के डॉक्टर मुरे केसलमैन और बाद में डॉक्टर जेफ्फ ब्रुडजिंस्की तथा केजीएमयू के बाल रोग विशेषज्ञ डॉ सिद्धार्थ कुंवर के साथ मिलकर बाल विभाग के पीआईसीयू के लिए प्रोटोकॉल डिवेलप करेंगे, इससे बाल विभाग के गहन चिकित्सा इकाई में टीचिंग और ट्रेनिंग के साथ कार्य विधि को और अधिक सुनियोजित किया जाएगा जिससे यह विश्वस्तरीय बन सके।

इस मौके पर कुलपति ने डॉ मुरे केसलमैन और डॉ सिद्धार्थ कुंवर को बधाई देते हुए विश्वास जताया कि वे लगन एवं परिश्रम के साथ अपने कार्य को अंजाम देंगे। इस एमओयू के तहत केजीएमयू के अन्य विभागों के बीच भी नए प्रोजेक्ट आरंभ होने की संभावना है।