यूके, ब्राजील, फ्रांस, जर्मनी जैसे डेढ़ दर्जन से ज्‍यादा देशों को सम्‍भाल रहे हैं मोदी!

अमेरिका में एक एनआरआई में भारत के नक्‍शे को रीडिजाइन करके भारत के राज्‍यों की तुलना देशों से की

एनआरआई द्वारा पुन: डिजाइन किया गया भारत का नक्‍शा जनसंख्‍या के आधार पर

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ब्राजील, यूनाइटेड किंगडम, फ्रांस, जर्मनी, ऑस्‍ट्रेलिया जैसे करीब डेढ़ दर्जन से ज्‍यादा देशों की सत्‍ता चला रहे हैं। चौंक गये न? स्‍वाभाविक है, लेकिन आपको बता दें कि जनसंख्‍या के दृष्टिकोण से ऐसा ही है। आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के दोबारा सरकार बनाने के लिए भारत की जनता द्वारा प्रचंड बहुमत दिये जाने के चर्चे दुनिया भर में हो रहे है। इन्‍हीं चर्चाओं के बीच सोशल मीडिया पर एक मैसेज वायरल हो रहा है। इस मैसेज में बताया गया है कि एक अमेरिका के एक एनआरआई, जो कि अमेरिका की एक कम्‍पनी का सीईओ भी है, उसने भारतीय नक्‍शे को री-डिजाइन करते हुए अपने कम्रचारियों को जहां यह बताया है कि जनसंख्‍या के अनुसार हिन्‍दुस्‍तान का प्रत्‍येक प्रदेश विश्‍व के किस देश के लगभग बराबर है। उसी के अनुसार उसने यह भी बताने की कोशिश की है कि भारत जैसे देश का प्रधानमंत्री बनने का अर्थ है कि कितने देशों की जनसंख्‍या को वह सम्‍भाल रहा है।

राज्यों को प्रदर्शित करता भारत का नक्शा

उदाहरण के लिए इस एनआरआई द्वारा जारी नक्‍शे में बताया गया है कि उत्‍तर प्रदेश की जनसंख्‍या ब्राजील की जनसंख्‍या के बराबर है, राजस्‍थान की जनसंख्‍या यूके के बराबर, गुजरात की साउथ अफ्रीका, मध्‍य प्रदेश की फ्रांस और बिहार की फि‍लीपीन्‍स की जनसंख्‍या के बराबर है। इसी प्रकार भारत के अन्‍य राज्‍यों की तुलना विश्‍व के किस देश की जनसंख्‍या से की गयी है, इसके लिए नक्‍शा तैयार करने वाले ने भारत के नक्‍शे में राज्‍य के नाम की जगह देश का नाम लिख दिया है। इसे और जानने के लिए पुन: डिजाइन किये गये नक्‍शे को देखें।

 

उस NRI ने भारत के मैप में हर प्रदेश के नाम की जगह (जैसे- उत्तर प्रदेश की जनसंख्या ब्राजील की जनसंख्या के बराबर) उस देश का नाम लिख दिया है बस। साथ ही उसने अपने कर्मचारियों को यह भी समझाया कि हिन्दुस्तान की सत्ता सम्भालने का मतलब है कि हिन्दुस्तान का प्रधानमंत्री एक साथ कितने देशों की जनसंख्या को सम्भाल रहा है।