Saturday , May 7 2022

अस्‍पतालों में दवा वितरण, इंजेक्‍शन, प्‍लास्‍टर कार्य दो घंटे बाधित, भटकते रहे मरीज

-फार्मेसिस्‍ट आंदोलन के तीसरे चरण में कार्य बहिष्‍कार का दूसरा दिन

-प्रदेश में किये जा रहे आंदोलन की समीक्षा करने पहुंचे डीपीए के राज्‍य स्‍तरीय पदाधिकारी

बलरामपुर अस्पताल , लखनऊ

सेहत टाइम्‍स  

लखनऊ शासन की उदासीनता के कारण फार्मेसिस्ट आंदोलन के तीसरे चरण में चल रहा कार्यबहिष्कार दूसरे दिन भी जारी रहा जिससे राजधानी लखनऊ सहित सभी जिलों के विभिन्‍न सरकारी अस्‍पतालों में दवा वितरण, इंजेक्शन, प्लास्टर, वार्डों में औषधि वितरण सहित अनेक महत्वपूर्ण कार्य 2 घंटे बाधित रहे। परिणामस्‍वरूप मरीजों को काउंटरों पर पहुंचकर भी फार्मासिस्‍टों द्वारा कार्य न किये जाने के चलते दो घंटे पूरा होने का इंतजार करना पड़ा।

डिप्लोमा फार्मेसिस्ट एसोसिएशन उत्तर प्रदेश के आह्वान पर 4 दिसम्बर से प्रदेश के फमेसिस्ट 20 सूत्रीय मांगों को लेकर आंदोलनरत है। कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष सुनील यादव ने चेतावनी दी है कि अगर उचित समाधान नहीं हुआ तो प्रदेश के समस्त फार्मेसिस्ट अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने को विवश होंगे।

लोकबंधु राजनारायण संयुक्‍त चिकित्‍सालय, लखनऊ

आज प्रांतीय अध्यक्ष संदीप बडोला ने बलरामपुर अस्पताल में गेट मीटिंग कर शासन द्वारा संवाद न करने का आरोप लगाया और कहा कि प्रदेश के सभी 75 जनपदों के समस्त चिकित्सालयों में फार्मेसिस्ट आंदोलनरत हैं, जिसकी रोजाना समीक्षा भी की जा रही है। उन्होंने बख्‍शी का तालाब जाकर ग्रामीण क्षेत्रों के फार्मेसिस्टो को संबोधित किया। महामंत्री उमेश मिश्रा ने बाराबंकी के अनेक चिकित्सालयों का दौरा किया, वहीं वरिष्ठ उपाध्यक्ष उपेंद्र प्रताप सिंह ने जौनपुर जिला व महिला अस्पताल की संयुक्त बैठक की।

इसी प्रकार संदीप बडोला ने आज संरक्षक के के सचान, प्रदेश कोषाध्यक्ष अजय पांडे, शंकर पटेल, संजय कन्नौजिया के साथ सी एच सी बख्शी का तालाब, सी एच सी इटौंजा, 100 शैय्या चिकित्सालय, साढ़ामऊ का दौरा कर साथियों के साथ प्रदर्शन किया व आंदोलन के प्रति जागरूक किया।

दूसरी ओर लखनऊ के बलरामपुर अस्पताल में प्रदेश अध्यक्ष संदीप बडोला के नेतृत्व में डी पी ए उत्तर प्रदेश संरक्षक के के सचान, महामंत्री उमेश मिश्रा, पूर्व महामंत्री श्रवण सचान, प्रान्तीय कोषाध्यक्ष अजय पाण्डे, पूर्व प्रान्तीय कोषाध्यक्ष रजत यादव, सुभाष श्रीवास्तव, संजय कनौजिया, जनपद शाखा लखनऊ कार्यकारी अध्यक्ष कपिल वर्मा के नेतृत्व में मंत्री अखिल सिंह, वरिष्ठ उपाध्यक्ष आर बी मौर्य, उपाध्यक्ष सुशील कुमार विद्यार्थी, संगठन मंत्री अविनाश सिंह, संयुक्त मंत्री विवेक श्रीवास्तव, कोषाध्यक्ष चंद्रशेखर श्रीवास्तव, संप्रेक्षक जितेंद्र कुमार, पंकज रस्तोगी, निशा तिवारी, मंजुलता, संगीता वर्मा, सुनीता यादव, आर पी सिंह, दयाशंकर त्यागी,  डी के श्रीवास्तव व अन्य ने सुबह 8 बजे से 10 बजे तक 2 घंटे के कार्य बहिष्कार की कमान संभाली।

रानी लक्ष्‍मीबाई संयुक्‍त चिकित्‍सालय, लखनऊ

सिविल अस्पताल में डी पी ए जनपद लखनऊ अध्यक्ष अरुण अवस्थी के नेतृत्व में रजनीश पांडेय, जी सी दुबे, ओ पी पटेल, श्रवण चौधरी,  सलिल श्रीवास्तव, पंकज श्रीवास्तव, सुधाकर शर्मा, रंजीत गुप्ता आदि ने कमान संभाली।

लोकबंधु अस्पताल में डी पी ए उत्तर प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष सुनील यादव के नेतृत्व में सी एल शांति, आनंद सिंह, अरविंद वर्मा, राजेश वरुण, राजेश गौतम ने, डफरिन से जसवंत सिंह, अरविंद तिवारी, पवन शर्मा, टी बी अस्पताल से रामेंद्र सिंह, राजेश कोहली, कल्पना सचान, जितेंद्र कुमार पटेल सहित सभी फार्मासिस्ट/चीफ फार्मासिस्ट ने कमान संभाली।

इसके साथ ही जनपद लखनऊ के सभी सामुदायिक स्वास्‍थ्‍य केंद्रों व प्राथमिक स्वास्‍थ्‍य केंद्रों पर तैनात सभी फार्मासिस्ट/चीफ फार्मासिस्टों द्वारा 2 घंटे का कार्य बहिष्कार करते हुए जमकर नारेबाजी करते हुए सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया।

डी पी ए जनपद शाखा लखनऊ के कार्यकारी अध्यक्ष कपिल वर्मा द्वारा संवर्ग के सभी फार्मेसिस्ट/चीफ फार्मासिस्ट साथियों द्वारा आंदोलन के सातवें दिन भी भारी संख्या में अपने-अपने कार्यस्थल पर 2 घंटे का कार्य बहिष्कार करते हुए अपना विरोध दर्ज कराने के लिए सभी साथियों का आभार व्यक्त किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nine − seven =

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.