एसजीपीजीआई में रेजीडेंट नियुक्ति की अधिकतम आयु सीमा बढ़ी

एम्‍स दिल्‍ली की तर्ज पर अब 37 वर्ष की आयु तक हो सकेगी नियुक्ति

लखनऊ उत्‍तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ स्थित संजय गांधी स्नातकोत्तर आयुर्विज्ञान संस्थान (एसजीपीजीआई) में सीनियर रेजिडेन्ट के पद पर नियुक्ति के लिए अधिकतम आयु सीमा को बढ़ाने का निर्णय प्रदेश मंत्रिपरिषद द्वारा लिया गया है।

 

इस निर्णय के अनुसार इसके लिये संस्थान की प्रथम विनियमावली-2011 के नियम-69 (3) को इस प्रकार से संशोधित कर दिया है- ‘भारत सरकार की रेजीडेन्सी स्कीम के अन्तर्गत सीनियर रेजीडेंट के पद पर नियुक्ति के लिए आयु सीमा 37 वर्ष होगी, अनूसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति व अन्य पिछड़े वर्गों के अभ्यर्थियों के मामले में आयु सीमा में 5 वर्ष की छूट और अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, नई दिल्ली के अनुसार अन्य श्रेणियों पर छूट लागू होगी।

 

गौरतलब है कि भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के आदेश 6 फरवरी, 2018 द्वारा केन्द्र सरकार के अधीन अस्पतालों व स्वायतशासी संस्थाओं में सीनियर रेजीडेन्ट के पद पर नियुक्ति के लिए अधिकतम आयु सीमा 37 वर्ष निर्धारित की गयी है। एम्स नई दिल्ली के कार्यालय-ज्ञाप दिनांक 6 मार्च, 2018 द्वारा अपने संस्‍थान में लागू करने के आदेश निर्गत किये गये हैं। एम्स, नई दिल्ली की तरह पीजीआई लखनऊ में भारत सरकार की रेजीडेन्सी स्कीम को स्वीकार करते हुए सीनियर रेजीडेन्ट की नियुक्ति के लिये अधिकतम आयु सीमा 37 वर्ष किये जाने का निर्णय लिया गया है।