धड़कनें बढ़ाने वाले मुकाबले में केजीएमयू ने जामिया मिलिया इस्‍लामिया यूनिवर्सिटी को पांच रन से हराया

-डॉ एपी टिक्‍कू की कप्‍तानी में टीम केजीएमयू ने किया ट्रॉफी पर कब्‍जा

-सर्वश्रेष्‍ठ बल्‍लेबाज व सर्वश्रेष्‍ठ गेंदबाज का पुरस्‍कार जेएमआईयू के खिलाडि़यों को

-हरफनमौला प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द मैच की ट्रॉफी केजीएमयू के डॉ भूपेन्‍द्र को

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। धड़कनें बढ़ाने व कांटे की टक्कर वाले क्रिकेट मुकाबले में में किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय, लखनऊ (केजीएमयू) ने जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी, (जेएमआईयू) दिल्‍ली को 5 रन से हरा दिया। रविवार 28 फरवरी को केजीएमयू के ग्राउंड पर खेले गए मैच की शुरुआत केजीएमयू के कुलपति लेफ्टिनेंट जनरल डॉ बिपिन पुरी की उपस्थिति में हुई। उन्होंने दोनों टीमों के खिलाड़ियों से परिचय लिया केजीएमयू की टीम का परिचय कप्तान डॉक्टर ए पी टिक्कू ने तथा जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी की टीम का परिचय कप्तान डॉक्टर नफीस ने करवाया। इस क्रिकेट मैच का आयोजन केजीएमयू एथलेटिक एसोसिएशन द्वारा दोनों टीमों के बीच दोस्ती और खेल भावना की परंपरा को बनाए रखते हुए किया गया।

मैच में मेहमान टीम ने टॉस जीता और पहले क्षेत्ररक्षण करने का फैसला किया। चमकदार धूप के मौसम के बीच केजीएमयू की टीम ने शुरुआत अच्छी की लेकिन पारी के मध्‍य के ओवरों में रन रेट थोड़ा गिर गया हालांकि पारी के अंतिम ओवरों में रन रेट फिर से अच्छा हो गया, टीम केजीएमयू ने कुल 8 विकेट पर 159 रन स्कोर बोर्ड पर टांग दिया। जवाब में 160 रन का लक्ष्य लेकर बल्लेबाजी करने उतरी जामिया मिलिया की पूरी टीम 154 रन ही बना सकी और इस तरह केजीएमयू की टीम ने 5 रनों से यह मैच जीत लिया।

मैच में सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज की ट्रॉफी मेहमान टीम के कप्तान डॉक्टर राशिद ने जीती, उन्होंने 54 रन की पारी खेली जबकि सर्वश्रेष्‍ठ गेंदबाज भी मेहमान टीम के डॉक्टर संजय को घोषित किया, उन्‍होंने 4 ओवर में 6 रन देकर तीन विकेट हासिल किए। मेजबान टीम के डॉक्टर अंजनी कुमार पाठक को सर्वश्रेष्‍ठ क्षेत्र रक्षक की ट्रॉफी उनके विभिन्न समयों पर किए गए अच्छे क्षेत्ररक्षण के लिए प्रदान की गई। मेजबान टीम के ही डॉक्टर भूपेंद्र को मैन ऑफ द मैच की ट्रॉफी उनके हरफनमौला प्रदर्शन के लिए दिया गया उन्होंने बैट और बॉल दोनों से कमाल करते हुए 39 रन बनाए तथा 3 ओवर में 19 रन बेकर बहुत किफायती गेंदबाजी उस समय की जब एक-एक रन बहुत महत्वपूर्ण था।

ट्रॉफी का वितरण कुलपति डॉ पुरी द्वारा किया गया। उन्होंने चैंपियंस ट्रॉफी केजीएमयू टीम के कप्तान डॉक्टर ए पी टिक्कू को प्रदान की। क्रिकेट मैच समारोह का समापन कुलपति की प्रेरणादायक भाषण के साथ हुआ। दोनों टीमों के कप्तानों ने एक दूसरे को धन्यवाद अदा किया। जामिया मिलिया टीम के कप्तान डॉक्टर नफीस ने टीम केजीएमयू की मेजबानी की तारीफ की और भविष्य में टीम केजीएमयू को दिल्ली में मैच खेलने के लिए आमंत्रित किया।