कोविड और ठंड की बीमारियों से बचने में जल नेति क्रिया अत्‍यन्‍त लाभदायक

-डॉ पीके गुप्‍त ने जारी किया है कोविड और ठंड की बीमारियों से बचाने में सहायक इस क्रिया का वीडियो

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। लगातार सामाजिक सरोकार से जुड़े रहने वाले,  आईएमए लखनऊ के पूर्व अध्‍यक्ष व वरिष्‍ठ पैथोलॉजिस्‍ट डॉ पीके गुप्‍त ने कोविड के साथ ही जाड़े के मौसम में नाक की समुचित और कारगर सफाई में लाभकारी जल ने‍ति क्रिया को करने की सलाह लोगों को दी है।

इस बारे में डॉ पीके गुप्‍त ने स्‍वयं जल नेति करते हुए एक वीडियो जारी किया है। यह जानकारी देते हुए डॉ गुप्‍त ने बताया कि यह क्रिया बहुत ही आसान है, मैंने जब इसे सीखा और किया तो मुझे अत्‍यधिक लाभदायक क्रिया महसूस हुई। इस कोरोना काल और दस्‍तक दे रही ठंड में नाक की समुचित सफाई करने का आसान तरीका मैं लोगों के बीच शेयर कर रहा हूं।

उन्‍होंने बताया कि जल नेति का बर्तन टोटीदार लोटे की तरह होता है, उसमें सेंधा नमक मिला हल्‍का गरम पानी भर कर इस बर्तन की टोटी को बारी-बारी से दोनों छिद्रों में लगाकर पानी डालें, उन्‍होंने कहा कि ऐसा करने से नाक के एक छिद्र से पानी अंदर जायेगा तथा दूसरे छिद्र से अपने आप बाहर निकलकर गिरता रहेगा।

डॉ गुप्‍त ने कहा कि कोविड से बचने के लिए और सर्दियों में जुकाम आदि से बचने के लिए भी नाक की सफाई का बहुत महत्‍व है, ऐसे में इस प्रकार की गयी नाक की सफाई अत्‍यंत उपयोगी रहेगी।

ध्‍यान रखने योग्‍य बातें

डॉ गुप्‍त ने कहा कि इस बात का ध्‍यान रखना है कि नाक के छिद्र में जब बर्तन की टोटी से पानी डालेंगे तो मुंह थोड़ा खुला रखकर सांस मुंह से ही लें, पानी को भी नाक न खींचें, अपने चेहरे को साइड से झुकाकर टोटी को नाक के छिद्र में लगाकर बर्तन को ज्‍यों ही टेढ़ा करेंगे तो पानी स्‍वत: ही नाक के अंदर चला जायेगा।

डॉ गुप्‍ता ने कहा कि पानी डालने की प्रक्रिया के बाद पांच-सात बार कपालभाती व्‍यायाम करें, इससे नाक पूरी तरह से साफ करने में मदद मिलेगी।

देखें वीडियो डॉ पीके गुप्‍त स्‍वयं करके दिखा रहे हैं जलनेति क्रिया