खाद्य पदार्थों में मिलावट की शिकायत हो तो टोल फ्री नम्‍बर पर करायें दर्ज

प्रथम विश्‍व खाद्य दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में जनता से अपील

लखनऊ। ‘‘खाद्य सुरक्षा हम सबकी जिम्मेदारी‘‘। खाद्य सुरक्षा से हम सभी जुड़े हैं। जब हम खाद्य सुरक्षा की बात करते हैं तो खेत से खाने के टेबल तक आने वाले खाद्य पदार्थ की सुरक्षा करने के प्रति हम सभी जिम्मेदार हैं। पब्लिक एजेण्डा की मुख्य धारा में खाद्य सुरक्षा को लाने के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन के जरिये प्रयास किए जा रहे है। इस प्रथम विश्व खाद्य सुरक्षा दिवस की मुख्य संकल्पना में वैश्विक स्तर पर भूख उन्मूलन में सुरक्षित खाद्य पदार्थो की प्रचुर उपलब्धता पर विश्व बिरादरी के साथ-साथ क्षेत्रीय स्तर पर समाज के सभी संवर्गों को उनके दायित्वों के प्रति जागरूक करना है

 

ये विचार खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन, अपर मुख्य सचिव, डा0 अनिता भटनागर जैन ने आज विश्व खाद्य सुरक्षा दिवस के अवसर पर लखनऊ विश्वविद्यालय के मालवीय सभागार में आयोजित कार्यक्रम में व्यक्त किए।  डॉ जैन ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए विश्व खाद्य सुरक्षा दिवस का औचित्य बताया तथा सुरक्षित खाद्य पदार्थ की उपलब्धता, फोर्टिफिकेशन एवं इसके महत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि विश्व व्यापी खाद्य अपमिश्रण की समस्या के निदान के लिए सरकार द्वारा लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने हाल ही में होली त्योहार पर विभाग द्वारा की गयी कार्यवाही तथा इसके परिणामों के विषय में बताया।

खाद्य जनक बीमारियों से जुड़ी समस्याओं के प्रति जागरूक होकर अच्छा खाना होगा तो हमें औषधियों की आवश्यकता नहीं होगी। उन्होंने कहा कि लखनऊ विश्वविद्यालय में यह कार्यक्रम आयोजित हो रहा है, जो कि सबसे श्रेष्ठ है, क्योंकि सब कुछ शिक्षा से जुड़ा है। और मूलभूत मुद्दा तो नैतिकता है। नैतिकता भूल जाने पर मूल्यों का विघटन होता है। उन्होंने कहा कि ग्राहक तो जागरूक हैं, किन्तु उन्हें और जागरूक करने की आवश्यकता है। डॉ जैन ने कहा कि यदि किसी व्यक्ति को कोई मिलावट सम्बन्धी शिकायत है तो वह विभाग के हेल्पलाइन नम्बर-18001805533 पर सूचित करे। उन्होंने कहा कि शिकायतकर्ता अपना नाम एवं पता अवश्य दे, ताकि शिकायतों पर सही ढंग से कार्यवाही की जा सके।

 

डा0 भटनागर ने कहा कि आज एक ऐतिहासिक क्षण है, क्योंकि हम सभी आज का दिन प्रथम विश्व खाद्य सुरक्षा दिवस के रूप में मना रहे हैं। उन्होंने सभागार में उपस्थित सभी लोगों से कहा कि यह हम सबका कार्यक्रम है, क्योंकि प्रत्येक व्यक्ति किसी न किसी प्रकार से खाद्य से जुड़ा है। डॉ जैन ने कार्यक्रम में उपस्थित सभी सदस्यों को विश्व खाद्य सुरक्षा के सम्बन्ध में शपथ ग्रहण करवाई।

 

इस कार्यक्रम में लखनऊ विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 एसपी सिंह नेफ्रोलॉजिस्ट एसजीपीजीआई डा अनिता सक्सेना, खाद्य सुरक्षा अधिकारी शिखा श्रीवास्तव, खाद्य सुरक्षा अधिकारी, शैलन्द्र कुमार श्रीवास्तव, अभिहित अधिकारी टीआर रावत ने भी खाद्य सुरक्षा के सम्बन्ध में अपने विचार दिए।

 

कार्यक्रम में विश्व खाद्य सुरक्षा मनाये जाने के उद्देश्य पर प्रकाश डाला गया तथा वीडियों क्लिप के माध्यम से विश्व खाद्य एवं कृषि संरठन के सहायक निदेशक का संदेश, सुरक्षित खाद्य व्यवसाय से सम्बन्धित सामान्य नियम यथा जी.एच.पी., जी.एम.पी. एच.ए.सी.सी.पी. आदि कि विषय में चर्चा एवं खाद्य पदार्थों में मिलावट पहचानने की सामान्य विधियों के विषय में आम जनमानस को जागरूक भी किया गया।