लोहिया अस्‍पताल के कर्मचारियों के संस्‍थान में समायोजन की मांग पर शासन सहमत

मोर्चा को लिखित पत्र का इंतजार, तब तक जारी रहेगा कार्य बहिष्‍कार

लखनऊ। डॉ राम मनोहर लोहिया संयुक्‍त चिकित्‍सालय के कर्मचारियों का लोहिया कर्मचारी अस्तित्‍व बचाओ मोर्चा की मांगों पर प्रमुख सचिव चिकित्‍सा शिक्षा द्वारा सहमति व्‍यक्‍त की है। प्रमुख सचिव ने सहमति व्‍यक्‍त करते हुए निदेशक लोहिया संस्‍थान को बैठक की कार्यवृत्ति जारी करने का निेर्देश दिया है। दूसरी ओर मोर्चा का कहना है कि जबतक लिखित रूप से हम लोगों को प्राप्‍त नहीं हो जाता है, तब तक पूर्व घोषित कार्यक्रम के अनुसार कार्य बहिष्‍कार जारी रहेगा।

यह जानकारी देते हुए मोर्चा के अध्‍यक्ष देश दीपक त्रिपाठी ने बताया कि आज प्रमुख सचिव चिकित्‍सा शिक्षा के साथ शासन में हम लोगों की बैठक हुई थी, इस बैठक में प्रमुख सचिव ने मोर्चा की कर्मचारियों को लोहिया संस्‍थान में समायोजित करने सम्‍बन्‍धी मांगों पर सहमति जताते हुए निदेशक लोहिया संस्‍थान से बैठक की कार्यवृत्ति जारी करने को कहा है।

प्रमुख सचिव चिकित्‍सा शिक्षा के कक्ष में हुई इस बैठक में प्रमुख सचिव चिकित्‍सा शिक्षा के साथ ही विशेष सचिव चिकित्‍सा शिक्षा, कुलसचिव केजीएमयू, उपसचिव चिकित्‍सा शिक्षा, निदेशक लोहिया संस्‍थान तथा निदेशक लोहिया संयुक्‍त चिकित्‍सालय के अलावा कर्मचारियों की ओर से इप्‍सेफ के राष्ट्रीय अध्‍यक्ष वीपी मिश्रमिश्र, मोर्चा के अध्‍यक्ष देश दीपक त्रिपाठी, मोर्चा के उपाध्‍यक्ष प्रशासन अनिल चौधरी तथा उपाध्‍यक्ष राम मनोहर कुशवाहा उपस्थित रहे।

उन्‍होंने बताया कि मोर्चा की बैठक में लिखित रूप से मांगों पर सहमति जारी होने तक कार्य बहिष्‍कार पूर्व की भांति जारी रखने का निर्णय किया गया है।