Saturday , December 4 2021

यूपी में जरूरतमंदों को मिलेगा नि:शुल्‍क ऑक्‍सीजन कंसेन्ट्रेटर

-पूर्वांचल ग्रामीण विकास संस्थान लखनऊ तथा ह्यूमैनेटेरियन एड इन्टरनेशनल की पहल

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। उत्तर प्रदेश राज्य आपदा प्रबन्ध प्राधिकरण तथा लखनऊ विश्व विद्यालय के मार्गदर्शन में पूर्वांचल ग्रामीण विकास संस्थान लखनऊ तथा ह्यूमैनेटेरियन एड इन्टरनेशनल द्वारा ऑक्‍सीजन बैंक का गठन किया गया है। बैंक द्वारा ऑक्सीजन की सुविधा कोविड जैसी महामारी के दौरान तथा उसके बाद भी दी जायेगी। ऑक्सीजन बैंक की पहल का उद्देश्य है कि अस्पतालों में प्रवेश पाने में असमर्थ मरीजों के घरेलू देखभाल तथा छोटे अस्पतालों/प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों मे भर्ती कोरोना मरीजो के लिए ऑक्‍सीजन कंसेन्ट्रेटर के माध्यम से जीवन रक्षक सहायता प्रदान करना।

ये बातें पीजीवीएस के सचिव डॉ भानु ने बैठक के दौरान अपने सम्बोधन मे कहा कि अभी 15 ऑक्‍सीजन कंसेन्ट्रेटर आ चुके हैं और 20 जल्द ही आ जायेगें, साथ ही उन्होंने ऑक्‍सीजन सिलेन्डर और ऑक्‍सीजन कंसेन्ट्रेटर में अन्तर को स्पष्ट करते हुए कहा कि दोनों चीजें मरीज को आवश्यकतानुसार ऑक्‍सीजन देने के लिए की जाती है, दोनों में ऑक्‍सीजन मास्क/कैनुला लगाकर दिया जाता है, सिलेन्डर मे एक सीमित मात्रा में ऑक्‍सीजन भरा जाता है और समाप्त होने पर दोबारा भरने की आवश्यकता होती है लेकिन ऑक्‍सीजन कंसेन्ट्रेटर मे आस पास के हवा से ऑक्‍सीजन खींच लेता है, इसलिए इसमें बार-बार भरने की आवश्यकता नहीं होती है।

बैठक के दौरान डा0 भानु ने कहा कि ऑक्‍सीजन कंसेन्ट्रेटर प्राप्त करने के लिए कुछ नियम एवं शर्ते बनायी गयी हैं जो निम्नलिखित हैं।

  1. ऑक्‍सीजन कंसेन्ट्रेटर के लिए आवेदन ऑनलाइन फार्म हिन्दी अथवा अंग्रेजी मे भरना होगा।
  2. मरीज का चिकित्सीय परिक्षण/परामर्श किसी प्रशिक्षित डॉक्टर के माध्यम से किया गया हो।
  3. बंधक धनराशि‍ के रूप मे 50,000 या किसी पहचान वाले गारन्टर का होना आवश्यक है।
  4. कंसेन्ट्रेटर उपयोग के बाद मशीन का सेनिटाइजेशन और मुंह मे लगाने वाला कैनुला सेट नया खरीद कर वापस करना होगा।
  5. कंसेन्ट्रेटर का आवंटन 1 सप्ताह के लिए किया जायेगा तथा डॉक्टर की सलाह पर समय बढ़ाया जा सकता है।
  6. कंसेन्ट्रेटर के किसी प्रकार के नुकसान होने की स्थिति मे भरपाई आवेदनकर्ता या गारन्टर द्वारा करना होगा।

बैठक में उत्तर प्रदेश राज्य आपदा प्रबन्ध प्राधिकरण के उपाध्यक्ष ले0 जनरल रविन्द्र प्रताप साही ने एच.ए.आई से बेहतर एवं लम्बी पार्टनरशिप की सफल कामना व्यक्त की।

लखनऊ विश्वविद्यालय के सांख्यिकी विभाग की प्रोफेसर शीला मिश्रा ने बताया कि ऑक्‍सीजन के अभाव मे कोविड मे बहुत लोगों ने अपनो को खो दिया इसको ध्यान मे रखकर उत्तर प्रदेश मे जो निःशुल्क ऑक्‍सीजन कंसेन्ट्रेटर बैंक की स्थापना की जा रही है उससे गरीब से गरीब व्यक्तिओं का सहयोग हो सकेगा। बैठक में पीपीएन कॉलेज कानपुर के सहायक प्रोफेसर डॉ कासीफ इमदाद ने भी अपने विचार रखे।

इन नम्‍बरों पर फोन करके पाया जा सकता है सुविधा का लाभ

राघवेन्द्र सिंह            9792533601

सी0एल0 बाजपेई         8429771162

देवेन्द्रनाथ पाण्डेय             8840596580

अदिति कुमारी           7668404854

डॉ भानु प्रताप मल्ल       9936033344