Tuesday , August 23 2022

कोरोना वायरस को लेकर केजीएमयू के विशेषज्ञ डॉक्‍टर ने दी अत्‍यंत कारगर सलाह

मौजूदा माहौल में घर लौटकर भाप लेना आदत में शामिल कर लें

धर्मेन्‍द्र सक्‍सेना

लखनऊ। किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी के पल्मोनरी विभाग के विभागाध्यक्ष और नेशनल कॉलेज ऑफ चेस्‍ट फि‍जीशियन ऑफ इंडिया व इंडियन कॉलेज ऑफ एलर्जी, अस्‍थमा एंड एप्‍लाइड इम्‍यूनोलॉजी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष प्रो सूर्यकांत ने सलाह दी है कि कोरोना वायरस को लेकर चल रही मौजूदा स्थितियों में घबराने के बजाय सतर्कता बरतें तथा बाहर से घर वापस लौटने पर पानी गर्म करके भाप ले लिया करें, ऐसा करने से न सिर्फ कोरोना बल्कि किसी प्रकार का वायरस अगर गलती से भी चला गया होगा तो वह समाप्‍त हो जायेगा, लेकिन इसका अर्थ यह कतई नहीं है कि बचाव के लिए अपनायी जाने वाली अन्‍य प्रक्रिया में ढिलाई बरत सकते हैं, भाप की प्रक्रिया को बचाव के लिए जारी गाइडलाइंस का हिस्‍सा समझें।

आपको बता दें कि विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन द्वारा कोरोना वायरस (कोविड-19) को महामारी घोषित कर दिया गया है साथ ही लखनऊ में एक महिला डॉक्‍टर में कोरोना संक्रमण पॉजिटिव पाये जाने के बाद ‘सेहत टाइम्‍स’ ने प्रोफ़ेसर सूर्यकांत से संपर्क कर कोरोना वायरस को लेकर बरती जाने वाली सावधानियों के बारे में विशेष बात की। प्रो सूर्यकांत ने बताया जैसा कि मैंने होली के मौके पर भी अपने संदेश में लोगों से कहा था कि कोरोना वायरस को लेकर घबरायें नहीं और न ही दूसरों में भय पैदा करने वाली बातों का प्रसारण करें, हां यह अवश्य है कि‍ आवश्‍यक सावधानियां जरूर बरतें।

प्रो सूर्यकान्त

उन्‍होंने बताया कि इन सावधानियों में मुख्‍य रूप से खांसी, जुकाम, बुखार जैसे लक्षणों वाले व्यक्ति से कम से कम 1 मीटर दूरी बनाकर रखें। इसके अलावा भीड़भाड़ वाली जगहों पर जाने से परहेजे करें, यदि जाना अत्यंत आवश्यक हो तो रूमाल को मास्‍क की तरह मुंह-नाक पर बांध लें या फि‍र जिनके पास अंगोछा या गमछा है तो वे उस गमछे की चार परत करके उसे मास्क की तरह प्रयोग कर सकते हैं, इसी प्रकार लड़कियां अपने दुपट्टे की चार तह बनाकर उसे मास्‍क की तरह इस्तेमाल कर सकती हैं। उन्होंने कहा इन सबके बावजूद यदि भूलवश या किसी भी अन्‍य परिस्थिति के चलते ये सावधानियां बरत पाये तो जब भी घर वापस लौटें, उस समय पानी उबालकर उससे भाप ले लें, इससे कोरोना वायरस सहित कोई भी वायरस अगर आपके आपके गले मैं पहुंच भी गया होगा तो वह बाहर आ जायेगा, नष्‍ट हो जायेगा।

उन्होंने बताया कि सरकार से लेकर इस कार्य में लगे सभी तंत्र, सभी चिकित्सकगण पूरे मनोयोग से कोरोना वायरस से निपटने के लिए काम कर रहे हैं ऐसे में किसी भी नागरिक को घबराने की जरूरत नहीं है, हां यह अवश्य है कि बताई गई सतर्कता को बरतकर अपना महत्वपूर्ण योगदान जरूर दें ऐसी मेरी सलाह भी है और अपील भी।

उन्होंने बताया कि जैसे-जैसे ज्यादा तापमान होगा वैसे-वैसे कोरोनावायरस जैसे वायरस दम तोड़ते हैं, इसीलिए ठंडी चीजें जैसे कोल्ड ड्रिंक, आइसक्रीम आदि का परहेज करें जबकि गर्म चीजें जैसे चाय, कॉफी, सूप व अन्‍य गर्म खाद्य पदार्थों का सेवन करें।