डॉ यश जगधारी को मिला सर्वश्रेष्‍ठ थीसिस का अवॉर्ड

-केजीएमयू में हर साल होने वाले इस आयोजन में इस वर्ष डॉ कोपल रोहतगी दूसरे व डॉ मोनिका तीसरे स्‍थान पर

डॉ यश जगधारी

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। किंग जॉर्ज चिकित्‍सा विश्‍वविद्यालय (केजीएमयू) द्वारा प्रति वर्ष रेजीडेंट्स डॉक्‍टर्स के लिए आयोजित होने वाले थीसिस प्रेजेन्‍टेशन में इस वर्ष की सर्वश्रेष्‍ठ थीसिस के लिए पल्‍मोनरी विभाग के रेजीडेंट डॉ यश जगधारी को चुना गया है, डॉ यश को जबकि साइकेट्री की डॉ कोपल रोहतगी तथा नाक कान गला विभाग की डा0 मोनिका को क्रमशः द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त हुआ।

ज्ञात हो सभी जूनियर डॉक्टर्स को अपनी पढ़ाई के दौरान एक साल के लिए किसी विषय पर शोध करके थीसिस जमा करनी होती है। यह उनके एम0डी0/एम0एस0 अथवा अन्य पाठ्यक्रमों के लिए अति आवश्‍यक होती है। केजीएमयू में इन समस्त रेजीडेन्टस जो कि एम0डी0/एम0एस0/डी0एम0 या एम0सी0एच0 का कोर्स कर रहे है उनके लिए थीसिस प्रस्तुतिकरण का आयोजन किया जाता है।

इस आयोजन में सर्वश्रेष्ठ थीसिस के लिए स्वः डा0 जान्हवी दत्त पाण्डेय स्कॉलरशिप अवॉर्ड प्रदान किया जाता है। इस वर्ष का यह अवार्ड रेस्पाइरेटरी मेडिसिन के डॉ यश जगधारी को प्राप्त हुआ है। इस अवार्ड के चयन के लिए बीती 10 दिसम्‍बर को के0जी0एम0यू0 के रिसर्च सेल द्वारा प्रो0 शैली अवस्थी के निर्देशन में एक प्रस्तुतीकरण किया गया था, जिसमें सभी प्रतिभागियों ने अपनी थीसिस का प्रस्तुतिकरण दिया। जिसमे डॉ यश को प्रथम स्थान मिला।

रेस्पाइरेटरी मेडिसिन के विभागाध्यक्ष डॉ सूर्यकान्त, समस्त चिकित्सकों, सभी जूनियर डॉक्टर्स एवं सभी चिकित्साकर्मियों ने डॉ यश को बधाई दी एवं उनके उज्‍ज्‍वल भविष्य की कामना की। ज्ञात हो कि वर्ष 2020 में रेस्पाइरेटरी मेडिसिन के जूनियर डॉक्टरों द्वारा ढे़र सारी उपलब्ध्यिां प्राप्त की हैं। विभाग के पूर्व छात्र डा0 ज्योति बाजपेई, डा0 अंकित कटियार, डा0 मनोज पाण्डेय, डा0 सुलक्षणा गौतम डा0 लक्ष्मी, डा0 शिप्रा आन्नद को विभिन्न मेडिकल कॉलेजो में असिस्टेन्ट प्रोफेसर के पद पर नियुक्ति प्राप्त हुयी। डा0 अभिषेक कार को एम्स भोपाल में फेलोशिप प्राप्त हुयी। डा0 कार्तिक नागाराजू, डा0 राहुल, डा0 विग्नेश  को देश के विभिन्न चिकित्सा संस्थानों मे डी0एम0 पल्मोनरी पाठ्यक्रम मे प्रवेश मिला।

के0जी0एम0यू0 के कुलपति ले.ज. डा0 बिपिन पुरी एवं उपकुलपति डा0 विनीत शर्मा ने डा0 यश व सफलता प्राप्त करने वाले रेस्पाइरेटरी मेडिसिन विभाग को अन्य रेजीडेन्टस को बधाई दी। साथ ही विभागाध्यक्ष डा0 सूर्यकान्त एवं समस्त चिकित्सा शिक्षकों को छात्रों का उच्चस्तरीय मार्गदर्शन प्रदान करने के लिए सराहना की।