निदेशक का चार्ज सम्‍भालते ही डॉ एके त्रिपाठी आये एक्‍शन मोड में

-डॉ त्रिपाठी ने लोहिया संस्‍थान के निदेशक का पदभार फि‍र से सम्‍भाला

-कोविड मरीजों का लिया हाल, इमरजेंसी की व्‍यवस्‍थाओं को लेकर कड़े निर्देश

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। डॉ राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्‍थान के निदेशक डॉ एके त्रिपाठी ने पांच माह बाद फि‍र से निदेशक का पदभार सम्‍भाल लिया है, कार्यवाहक निदेशक के रूप में कार्य कर रहे अटल बिहारी वाजपेयी मेडिकल यूनिवर्सिटी के कुलपति डॉ एके सिंह ने डॉ त्रिपाठी को पद का चार्ज सौंपा। डॉ त्रिपाठी ने कार्यभार ग्रहण करने के बाद कोविड और नॉन कोविड मरीजों की चिकित्‍सा व्‍यवस्‍था का जायजा लिया।

ज्ञात हो डॉ त्रिपाठी को पुन: निदेशक पद पर स्‍थापित करने के आदेश 13 नवम्‍बर को जारी हुए थे। इसी के अनुपालन में आज डॉ त्रिपाठी ने करीब अपरान्‍ह 12.30 बजे संस्‍थान पहुंचकर कार्यभार ग्रहण किया, इसके बाद डॉ त्रिपाठी सीधे संस्‍थान के शहीद पथ स्थित कोविड हॉस्पिटल पहुंचे और वहां भर्ती गंभीर मरीजों का हाल जाना। इसके बाद हॉस्पिटल में 200 बेड बढ़ाने सम्‍बन्‍धी तैयारियों का जायजा लिया। इसके साथ ही यहां  लगने वाले लिक्विड ऑक्‍सीजन प्‍लांट की व्‍यवस्‍था को देखा।  

डॉ त्रिपाठी इसके बाद करीब 3 बजे संस्‍थान के इमरजेंसी वार्ड में पहुंचे। यहां पहुंचकर उन्‍होंने निर्देश दिया कि मरीज के पहुंचते ही उसे उपचार मिले, जांच हो, इसमें किसी प्रकार की देर न हो, साथ ही स्‍ट्रेचर की उपलब्‍धता रहे, इसके लिए एक व्‍यक्ति हमेशा वहां तैनात रहे। डॉ त्रिपाठी ने दलालों पर भी निगरानी रखने का निर्देश दिया और कहा कि ऐसे लोग अस्‍पताल के अंदर फटकने न पायें।