डॉ एके त्रिपाठी को दीवाली का तोहफा, लोहिया संस्‍थान के निदेशक पद पर वापसी

-कोविड एवं नॉन कोविड मरीजों के प्रबंधन में लापरवाही पर पांच माह पूर्व हटा दिया गया था

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो       

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार ने डॉ राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान के निदेशक पद से विरत चल रहे डॉक्टर एके त्रिपाठी को पुनः पदस्थापित कर दिया है। डॉ त्रिपाठी को कोविड एवं नॉन कोविड मरीजों के प्रबंधन में शिथिलता व लापरवाही प्रकरण में 5 माह पूर्व निदेशक पद से प्रकरण की जांच होने तक पद से हटाने के आदेश दिये गये थे।

विभाग के अपर मुख्य सचिव डॉ रजनीश दुबे द्वारा जारी कार्यालय आदेश में कहा गया है कि कुलाध्यक्ष द्वारा डॉ त्रिपाठी के विरुद्ध संस्थित जांच निक्षेपित किए जाने के आदेश 13 नवंबर को दिए गए हैं, इन आदेशों के अनुपालन में डॉक्टर ए के त्रिपाठी के खिलाफ संस्थित जांच निक्षेपित कर दी गयी है।

आदेश में कहा गया है कि जांच आख्या में डॉ त्रिपाठी के खिलाफ जांच निक्षेपित किए जाने के बाद की स्थिति में डॉ ए के त्रिपाठी को पुनः निदेशक डॉ राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान लखनऊ के पद पर पदस्थापित कर दिया गया है। ज्ञात हो मौजूदा समय में अटल बिहारी वाजपेयी चिकित्‍सा विश्‍वविद्यालय के कुलपति प्रो एके सिंह लोहिया संस्‍थान के कार्यवाहक निदेशक पद का दायित्‍व निभा रहे हैं।