Thursday , June 30 2022

कोरोना वायरस : महिला डॉक्‍टर के पति की जांच में दूसरा नमूना भी निगेटिव आया

-महिला डॉक्‍टर की हालत बेहतर, पूरी तरह से निगरानी कर रहे डॉक्‍टर

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। उत्‍तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में पाया गया कोरोना वायरस कोविड-19 का पहला पॉजिटिव केस महिला डॉक्‍टर की हालत ठीक है, उसे केजीएमयू के संक्रामक रोग विभाग में भर्ती रखा गया है। इस बीच डॉक्‍टर के पति का गुरुवार को एक बार फि‍र लार का टेस्‍ट किया गया जो कि निगेटिव आया है, आपको बता दें बुधवार को भी पति का टेस्‍ट किया गया था, तब भी कोविड-19 वायरस होने की रिपोर्ट निगेटिव आयी थी। ज्ञात हो महिला डॉक्‍टर की ससुराल यहां गोमती नगर में है, जबकि वह प्रैक्टिस कनाडा के टोरंटो में करती है, तथा 8 मार्च को लखनऊ आयी थी।

इस बारे में भर्ती महिला डॉक्‍टर का इलाज कर रहे केजीएमयू के विशेषज्ञ चिकित्‍सक डॉ डी हिमांशु ने बताया कि महिला की हालत बेहतर बनी हुई है, जबकि महिला के पति की लार का नमूना का गुरुवार को पुन: माइक्रोलॉजी विभाग की लैब में परीक्षण किया गया, जो कि निगेटिव आया है। इस बीच खबर है कि स्‍वास्‍थ्‍य विभाग ने कोरोना वायरस की स्थिति के मद्देनजर हर जिला अस्पताल में 10-10 बेड के आइसोलेशन वार्ड बनाए हैं। जबकि चिकित्सा शिक्षा विभाग ने भी सभी मेडिकल कॉलेजों में 10 बेड के आइसोलेशन वार्ड बनाए हैं। आपको बता दें कि अब तक उत्तर प्रदेश में 10 लोगों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है।

स्वास्‍थ्‍य विभाग कोरोना की जांच के लिए नमूने केजीएमयू लखनऊ, एनआईवी पुणे और नई दिल्ली स्थित लैब को भेज रहा है। लोगों को साफ-सफार्ई रखने और छींकते-खांसते समय मुंह पर रूमाल अथवा टिश्यू पेपर रखने को कहा जा रहा है। साथ ही उन्हें बार-बार हाथ साबुन से धोने अथवा सेनेटाइज़र का इस्तेमाल करने की हिदायत दी जा रही है। लखनऊ व  वाराणसी एयरपोर्ट पर उतरने वाले हवाई जहाज के यात्रियों की स्क्रीनिंग की जा रही है। इसी तरह नेपाल की तरफ से आने वाले लोगों की बॉर्डर चेक पोस्ट पर स्क्रीनिंग की जा रही है।