विभिन्‍न कार्यालयों के कर्मियों में फैल रहे कोरोना के मामलों ने चिंता बढ़ायी

-डायल 112 मुख्‍यालय के छह और कर्मचारियों को कोविड-19 संक्रमण

-सिंचाई कार्यालय भी चपेट में, सैनिटाइजेशन के लिए दो दिन बंद रहेगा

-एक्सिस बैंक का मैनेजर सहित 24 और लोग कोरोना पॉजिटिव मिले

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। वर्क प्‍लेस यानी कार्यस्‍थल पर काम करने वाले कर्मचारियों में बढ़ रही कोरोना की घुसपैठ डरा रही है, वजह इन कार्यालयों में काम करने वाले अलग-अलग क्षेत्रों में रहते हैं, ऐसे में अनेक क्षेत्रों में इसके संक्रमण का खतरा होना स्‍वाभाविक है। सीएम हेल्‍पलाइन,  पीएसी बटालियन, डायल 112 आदि कार्यालयों में कोरोना की दस्‍तक के बाद सोमवार को फिर डायल 112 के 6 सिपाहियों समेत 24 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। वहीं सीएमओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार सोमवार को 32 संक्रमित मरीजों को ठीक होने के बाद डिस्चार्ज किया गया है। सिंचाई विभाग की एक कर्मी में कोविड-19 की पुष्टि होने के कारण सिंचाई भवन मुख्‍यालय को दो दिन बंद करके सैनिटाइज कराया जा रहा है। हालांकि संक्रमित कर्मी सिंचाई विभाग के सर्किल 7 में कार्यरत है, लेकिन महिला के पति सिंचाई मुख्‍यालय में तैनात हैं।

सीएमओ डॉ.नरेन्द्र अग्रवाल ने बताया कि नये मरीजों में 8 महिलाएं और 16 पुरुष हैं। इनमें से छह मरीज  डायल 112 मुख्यालय के कर्मचारी हैं। डायल 112 के संक्रमित कर्मचारी के ही निलमथा में रहने वाले तीन रिश्‍तेदार भी संक्रमित हो गये हैं। इसके अलावा आलमबाग गीतापल्ली के 2, नटखेड़ा रोड़ के 3, एक्सिस बैंक के मैनेजर समेत गोमतीनगर के 2, सिंचाई विभाग कर्मचारी समेत राजाजीपुरम से 2, मोहान रोड के 2 और अलीगंज, पुलिस लाइन, मवैया व आईडीएस के एक-एक मरीज में संक्रमण की पुष्टि हुई है।

सभी संक्रमितों को लोकबन्धु, केजीएमयू व साढ़ामऊ हॉस्पिटल में भर्ती किया गया है। उनके परिवारीजनों के सैंपल लिये गये हैं और संपर्कियों की सूची बनाई जा रही है, सभी को आइसोलेट रहने के निर्देश दिये गये हैं, पांच दिन बाद लक्षण उभरने पर जांच कराई जायेगी। इसके अलावा उन्होंने बताया कि 32 रोगियों को डिस्चार्ज किया गया है, जिसमें से 9 केजीएमयू से और 23 साढ़ामऊ बीकेटी के हैं।

उन्होंने बताया कि जिन क्षेत्रों में 21 दिनों से मरीज नहीं मिले उन 6 क्षेत्रों कों कंटेन्मेंट जोन से बाहर कर दिया गया है और ज्यादा मरीज मिलने पर तीन क्षेत्र बढ़ा दिये गये हैं। वर्तमान में कुल 32 कटेंटमेंट जोन है।