66 दिव्‍यांगों को दिये गये कृत्रिम अंग-सहायक उपकरण

लायन्‍स क्‍लब के फ्री कैम्‍प में कन्‍याओं को 50 साइकिल और 50 सिलाई मशीनें भी दी गयीं

लखनऊ। इंटरनेशनल एसोसिएशन ऑफ लायन्‍स क्‍लब्‍स डिस्ट्रि‍क्‍ट 381-बी1 के तत्‍वावधान में किंग जॉर्ज चिकित्‍सा विश्‍व विद्यालय के डिपार्टमेंट ऑफ फि‍‍जिकल मेडिसिन एंड रिहैबिलिटेशन (डीपीएमआर) के सहयोग से विभाग के परिसर में शनिवार को निर्धन दिव्‍यांगजनों को कृत्रिम अंग एवं सहायक उपकरण के फ्री वितरण के लिए शिविर लगाया गया। इस शिविर में 66 दिव्‍यांगों को कृत्रिम अंग या सहायक उपकरण दिये गये जबकि 50 निर्धन कन्‍याओं को साइकिल और 50 महिलाओं को सिलाई मशीन वितरित की गयी।

 

कार्यक्रम में विशिष्‍ट अतिथि के रूप में आमंत्रित महापौर संयुक्‍ता भाटिया ने अपने सम्‍बोधन में कहा कि मैं लायनेस क्‍लब की पुरानी मेम्‍बर रह चुकी हूं तथा लायन्‍स क्‍लब के सामाजिक कार्यों की जानकारी है। महापौर बनने के बाद मेरा अलग-अलग क्‍लब में जाना हुआ। उन्‍होंने कहा कि सेवाकार्य करना अच्‍छा लगता है। उन्‍होंने कहा कि नगर निगम सेवा के लिए हमेशा तैयार है। उन्‍होंने कहा कि लायन्‍स क्‍लब को एक चौराहा मेन्‍टेनेंस के लिए देना तय हो चुका है, जबकि तीन अभी शेष हैं।

उन्होंने कहा कि आजकल आप लोग भी देखते होंगे कि सर्वश्रेष्‍ठ शहरों में गुजरात के शहर और इंदौर का नाम पहले नम्‍बर पर आ रहा है, उन्‍होंने जनता से अपील करते हुए कहा कि जनता सहयोग दे तो लखनऊ भी नम्‍बर एक पर आ जायेगा, फि‍र लोग गुजरात और इन्‍दौर को भूल जायेंगे। समारोह के मुख्‍य अतिथि पूर्व अंतरराष्‍ट्रीय निदेशक लायन विनोद खन्‍ना ने लायन्‍स क्‍लब द्वारा किये जा रहे कार्यों को सामाजिक दृष्टिकोण से महत्‍वपूर्ण बताया। इस मौके पर विशिष्‍ट अतिथि के रूप में डीपीएमआर विभाग के विभागाध्‍यक्ष डॉ अनिल कुमार गुप्‍ता व  केजीएमयू के मुख्‍य चिकित्‍सा अधीक्षक प्रो एसएन संखवार के साथ ही डीपीएमआर के वर्कशॉप मैनेजर अरविन्‍द निगम, प्रॉस्‍थेटिक इंचार्ज शगुन सिंह, पूर्व सूचना अधिकारी प्रदीप गुप्‍ता सहित अनेक लोग उपस्थित रहे।