मुख्‍य सचिव से अपील, दंडित न करें पीड़ा लेकर गये कर्मचारियों को

-कर्मचा‍री-शिक्षक संयुक्‍त मोर्चा ने मुख्‍य सचिव से किया आग्रह

लखनऊ। कर्मचारी शिक्षक संयुक्त मोर्चा ने मुख्य सचिव से आग्रह किया है कि अपनी पीड़ा को उनके समक्ष रखने गए सचिवालय के कुछ कर्मचारियों को अनुशासनहीनता कह कर दंडित करने की कार्यवाही को वापस लेकर सद्भावना एवं बड़प्पन का परिचय दें।    

वी पी मिश्र अध्यक्ष कर्मचारी शिक्षक संयुक्त मोर्चा उत्तर प्रदेश ने बताया कि कई बार इस प्रकार की घटनाएं विगत मुख्य सचिवों के कार्य काल में हुई थीं। तत्कालीन मुख्य सचिव ने उनसे बात की और अपर मुख्य सचिव सचिवालय प्रशासन को निर्देश दिया कि उनके सेवा संबंधी जो भी मामले हैं तत्काल समाधान निकालें। दंडित करने की यह पहली घटना मैने देखी है। कर्मचारी संगठन के पदाधिकारी के साथ आए कोई भी पदाधिकारी शिष्टाचार से बात नहीं करता है तो अनुचित है ।

श्री मिश्रा ने बताया कि मुख्य सचिव स्तर से दिए गए निर्देश के बावजूद विभागीय अपर मुख्य सचिव /प्रमुख सचिव कर्मचारी संगठनों से बातचीत नहीं करते हैं। संवादहीनता के कारण मांगों पर निर्णय लंबित पड़े हैं। इससे कर्मचारी संगठन आंदोलन को बाध्य होते हैं।