अजंता हॉस्पिटल एंड आईवीएफ सेंटर को एक ही दिन में दोहरी सफलता

राष्‍ट्रीय सर्वे में नॉर्थ भारत का नौवां व लखनऊ का दूसरा हॉस्पिटल

‘सेव गर्ल चाइल्‍ड’ में योगदान के लिए परिवार कल्‍याण मंत्री ने किया सम्‍मानित  

लखनऊ। उत्‍तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ स्थित अजन्‍ता मल्‍टी एंड सुपर स्‍पेशियलिटी हॉस्पिटल एंड आईवीएफ सेंटर के लिए आज का दिन दोहरी सफलता लेकर आया। पहली सफलता के तहत अस्‍पताल को उत्‍तर भारत में नौवें तथा लखनऊ में दूसरे नम्‍बर के हॉस्पिटल की रैंक हासिल हुई है, जबकि दूसरी सफलता में अस्‍पताल की निदेशक डॉ गीता खन्‍ना को सेव गर्ल चाइल्‍ड कार्यक्रम के लिए उत्‍तर प्रदेश की परिवार कल्‍याण मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने सम्‍मानित किया है।

 

अस्‍पताल प्रशासन के अनुसार टाइम्‍स ऑफ इंडिया ग्रुप द्वारा कराये सर्वे में रिपोर्ट सामने आयी है। इसके तहत राष्‍ट्रीय स्‍तर पर टाइम्‍स ऑफ इंडिया ग्रुप ने ऑल इंडिया फर्टिलिटी एंड आईवीएफ सर्वे कराया था। इसमें नॉर्थ जोन के दस अस्‍पतालों को चुना गया जिसमें अजंता हॉस्पिटल को नौवां स्‍थान प्राप्‍त हुआ। इसी सर्वे में अगर लखनऊ स्थित अस्‍पतालों की बात करें तो अजंता अस्‍पताल को दूसरा स्‍थान प्राप्‍त हुआ।

एक अन्‍य उपलब्धि के तहत नेशनल फेडरेशन ऑफ ऑब्‍सट्रेटिक एंड गाइनीकलॉजिकल सोसाइटी ऑफ इंडिया (फॉग्‍सी) तथा अनुपमा फाउन्‍डेशन के संयुक्‍त तत्‍वावधान में लखनऊ में आयोजित ‘नेशनल समिट ऑन कॉम्‍बेटिंग सेक्‍स’ में डॉ गीता खन्‍ना को मंत्री डॉ रीता बहुगुणा जोशी द्वारा सम्‍मानित किया गया। इस मौके पर फॉग्‍सी के प्रेसीडेंट डॉ जयदीप मल्‍होत्रा, अनुपमा फाउन्‍डेशन की अध्‍यक्ष अनुपमा सिंह सहित अनेक चिकित्‍सक उपस्थित रहे। आपको बता दें डॉ गीता खन्‍ना फॉग्‍सी के तहत सेव गर्ल चाइल्‍ड कार्यक्रम के तहत गर्भ में शिशु के लिंग की जांच के खिलाफ अभियान में अपना योगदान दे रही हैं। डॉ गीता खन्‍ना निसंतान दम्‍पतियों के आंगन में शिशु रूपी फूल खिलाने के कार्य में पिछले 20 वर्षों से लगी हुई हैं।