लोहिया संस्‍थान में प्रतिनियुक्ति वाले कर्मियों के भत्‍ते को लेकर अपर मुख्‍य सचिव ने दिये निर्देश

-कई लम्बित मुद्दों को लेकर राज्‍य कर्मचारी संयुक्‍त परिषद के महामंत्री के नेतृत्‍व में मिला था प्रतिनिधिमंडल

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। चिकित्‍सा शिक्षा विभाग के अपर मुख्‍य सचिव डॉ रजनीश दुबे ने डॉ राम मनोहर लोहिया चिकित्‍सालय से डॉ राम मनोहर लोहिया संस्‍थान में प्रतिनियुक्ति पर आये कर्मचारियों को संस्‍थान की भांति भत्‍ता दिये जाने संबंधी प्रस्‍ताव एक सप्‍ताह के अंदर वित्‍त विभाग को भेजने का निर्देश दिया है। इसके साथ ही लोहिया संस्‍थान में टेक्‍नीशियन ग्रेड-2 (डेंटल) का पद नाम बदलकर डेंटल हाईजिनिस्‍ट करने तथा इस पद का ग्रेड पे-2400/लेबल-4 के स्थान पर ग्रेड पे 4200/ लेबल-6 किये जाने की कार्रवाई भी 15 दिनों में करने के निर्देश दिये हैं।

यह जानकारी देते हुए लोहिया कर्मचारी अस्तित्व बचाओ मोर्चा के उपाध्‍यक्ष राजेश शुक्‍ला द्वारा जारी विज्ञप्ति में बताया गया है कि राज्‍य कर्मचारी संयुक्‍त परिषद के महामंत्री अतुल मिश्र के नेतृत्‍व में शनिवार 12 दिसम्‍बर को अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा डॉ रजनीष दुबे से राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के महामंत्री अतुल मिश्रा के नेतृत्व में लोहिया कर्मचारी अस्तित्व बचाओं मोर्चा के प्रतिनिधि मण्डल ने मुलाकात कर डॉ राम मनोहर आयुर्विज्ञान संस्थान में प्रतिनियुक्ति पर तैनात कर्मचारियों की 4 अक्‍टूबर, 2019 को सहमति वाले मुद्दों पर चर्चा की।

विज्ञप्ति में बताया गया है कि प्रतिनियुक्ति पर तैनात कर्मिकों को संस्थान की भांति भत्‍ता दिये जाने का प्रस्ताव संस्थान की शासी निकाय की 21 नवम्‍बर, 2019 को हुई इकतीसवीं बैठक के एजेन्डे के बिन्दु नंबर 6 में पास किया गया था। प्रस्ताव निदेशक द्वारा 8 नवम्‍बर, 2020 को अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा को प्रेषित किया गया। इसमें शासन से भत्ते अनुमन्य कराने के सम्बन्ध में अनुरोध किया था। इस पर अपर मुख्य सचिव ने सम्बन्धित अधिकारियों को आदेश दिया कि प्रस्ताव एक सप्ताह के अन्दर वित्त विभाग को भेज दिया जाये।

इसके अलावा संस्थान में सृजित टेक्नीशियन ग्रेड-2 (डेन्टल) का पदनाम बदलकर दन्त स्वास्थ्य वैज्ञानी (डेन्टल हाईजिनिस्ट) किये जाने पर सहमति बनी थी। इस पद का ग्रेड पे-2400/लेबल-4 के स्थान पर ग्रेड पे 4200/ लेबल-6 किये जाने हेतु प्रस्ताव निदेशक संस्थान द्वारा 28 नवम्‍बर, 2020 को अपर मुख्य सचिव को प्रेषित किया गया- अपर मुख्य सचिव ने सम्बन्धित आधिकारियों को आदेश दिया कि 15 दिनों के अन्दर कार्यवाही सुनिश्चित कर दी जाये।

विज्ञप्ति के अनुसार उन्‍होंने अनिल कुमार फीजियोथेरेपिस्ट की नियमों के विरुद्ध लगायी गयी कोविड-19 ड्यूटी को स्थगित करने के निर्देश संस्थान प्रशासन (मुख्य चिकित्सा अधीक्षक) को दिया।

नर्सिंग संवर्ग के प्रतिनियुक्ति पर तैनात कर्मचारियों तथा संस्थान के कर्मचारियों में कार्य करने में सीनियारिटी-कनिष्ठ को वार्ड इंचार्ज बनाकर उनके अधीन वरिष्ठ कर्मचारी से कार्य लिये जाने (ग्रेड पे 4800/- के अधीन ग्रेड पे 5400/6600 के कर्मचारियों की ड्यूटी लगाने) आदि सहित स्थानीय मुद्दों पर स्थानीय प्रशासन डॉ राम मनोहर आयुर्विज्ञान संस्थान को निर्देशित किया कि शीघ्र समस्याओं का निस्तारण करें।

प्रतिनिधि मण्डल ने अपर मुख्य सचिव का धन्यवाद ज्ञापित करते हुए सोमवार 14 दिसम्‍बर को प्रस्‍तावित अपने कार्य बहिष्कार को स्थगित कर दिया। प्रतिनिधि मण्डल में मुख्य रूप से डीडी त्रिपाठी, राम मनहोर कुशवाहा, अनिल चौधरी, सुनीता शुक्ला आदि उपस्थित रहे।