बच्‍चेदानी की गांठ व अंडाशय की रसौली जैसे स्‍त्री रोगों के होम्‍योपैथिक इलाज पर वेबिनार, कोई भी पूछ सकता है प्रश्‍न

-दिल्‍ली होम्‍योपैथिक मेडिकल एसोसिएशन 14 मई की रात 9 बजे आयोजित कर रहा वेबिनार

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

नयी दिल्‍ली/लखनऊ। बच्‍चेदानी की गांठ व अंडाशय की रसौली जैसे स्‍त्री रोगों में प्रमाण सहित होम्‍योपैथिक दवाओं से सफल उपचार करने वाले डॉ गिरीश गुप्‍ता 14 मई को होने वाले वेबिनार में मुख्‍य वक्‍ता के रूप में उपस्थित रहेंगे, दिल्‍ली होम्‍योपैथिक मेडिकल एसोसिएशन द्वारा आयोजित किये जाने वाले इस वेबिनार का रात्रि 9 बजे से लाइव प्रसारण होगा।

वेबिनार के आयोजन सचिव डॉ दीपक पंवार ने बताया कि इस वेबिनार का विषय ‘होम्‍योपैथिक इन गाइनीकोलॉजी’ है तथा इसमें स्‍त्री रोगों के होम्‍योपैथी में सफल उपचार के बारे में डॉ गिरीश गुप्‍ता एक व्‍याख्‍यान प्रस्‍तुत करेंगे। उन्‍होंने बताया कि वेबिनार में शामिल होने के लिए किसी प्रकार को कोई शुल्‍क नहीं रखा गया है। कोई भी व्‍यक्ति जो डॉ गिरीश गुप्‍ता से स्‍त्री रोगों पर कोई प्रश्‍न पूछना चाहता है, पूछ सकता है। आपको बता दें कि लखनऊ स्थित गौरांग क्‍लीनिक एंड सेंट्रल फॉर होम्‍योपैथिक रिसर्च के संस्‍थापक डॉ गिरीश गुप्‍त होम्‍योपैथिक रिसर्च फाउंडेशन तथा एशियन होम्‍योपैथिक मेडिकल लीग एसोसिएशन के भी प्रेसीडेंट हैं। डॉ पंवार ने बताया कि इस वेबिनार का सीधा प्रसारण फेसबुक https://www.facebook.com/dhmadelhi/TV पर भी किया जायेगा। उन्‍होंने बताया कि इस वेबिनार में दिल्‍ली होम्‍योपैथिक मेडिकल एसोसिएशन के प्रेसी‍डेंट डॉ युधिष्ठिर सिंह, जनरल सेक्रेटरी डॉ दीपक शर्मा, कोषाध्‍यक्ष डॉ गरिमा जिंदल, संयुक्‍त सचिव डॉ नूपुर भी उपस्थित रहेंगे।

आपको बता दें कि डॉ गिरीश गुप्‍ता की रिसर्च इंडियन जर्नल ऑफ रिसर्च इन होम्‍योपैथी में छपी हुई हैं। डॉ गुप्‍ता ने महिलाओं को होने वाली बीमारियों पर अपनी लिखी पुस्‍तक ‘Evidence-based Research of Homoeopathy in Gynaecology’ में भी अपनी रिसर्च के बारे में विस्‍तार से जानकारी दी है।