ब्‍यूटी पार्लर्स, मिठाई शॉप्‍स, रेस्‍टोरेंट्स, धर्मस्‍थलों पर मिले 1.32 फीसदी लोग कोविड संक्रमित

-यूपी में फोकस टेस्टिंग में 5,20,504 लोगों की जांच में पाये गये 6,886 पॉजिटिव

-राज्‍य में बीते 24 घंटों में मिले 2036 नये मामले, 25 लोगों की मौत

अमित मोहन प्रसाद

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। उत्‍तर प्रदेश में कोविड-19 के बढ़ते मामलों को रोकने के लिए किये जा रहे प्रयासों के तहत बाजारों,  रेस्‍टोरेंट, धर्मस्‍थलों पर जो फोकस टेस्टिंग कराई गयी थी उसके परिणाम अब मिले हैं, इसके अनुसार इस फोकस टेस्टिंग में 1.32 प्रतिशत लोग कोरोना संक्रमित पाये गये। इनमें टू व्हीलर, थ्री व्हीलर, रिक्शा चालकों, मेंहदी लगाने वाले, ब्यूटी पार्लर, मिठाई की दुकानों में कार्य करने वाले, रेस्टोरेंट में, धर्म स्थलों पर और शॉपिंग मॉल में काम करने वाले 5,20,504 लोगों के सैम्‍पल लिये गये थे, इनमें 6,886 लोग पॉजिटिव पाये गये।

यह जानकारी देते हुए प्रदेश के अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने लोक भवन में प्रेस प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए बताया कि इस फोकस टेस्टिंग में टू व्हीलर, थ्री व्हीलर, रिक्शा चालकों के 55,741 सैम्पल में से 413 पॉजि‍टिव मिले हैं। इसी प्रकार करवा चौथ के पहले जो लोग मेंहदी लगाते हैं, ब्यूटी पार्लर हैं, इनकी पूरे प्रदेश में सैम्पलिंग की गयी थी जिसमें 53,916 में से 422 पॉजि‍टिव मिले थे। इसी प्रकार मिठाई की दुकानों में कार्य करने वाले लोगों के 1,19,1145 सैम्पल में से 2,172 लोग, रेस्टोरेंट में 60,702 सैम्पल में से 416, धर्म स्थलों पर 1,14,976 सैम्पल में से 2,438  तथा  शॉपिंग मॉल में 1,16,054 सैम्पल में से 1025 पॉजिटिव पाये गये थे। उन्होंने बताया कि आज और कल मार्केट/बाजारों में फोकस टेस्टिंग होगी।

श्री प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में एक नया अभियान 1 दिसम्बर से 7 दिसम्बर तक चलाया जायेगा। इसके लिए सभी जनपदों को निर्देश दिये गये है कि मैपिंग ऑफ केसेज के आधार पर जिस इलाके में ज्यादा संक्रमण के केस मिल रहे हैं, वहीं पर सर्विलांस तथा फोकस टेस्टिंग की गतिविधियों को तेज किया जाए और उस इलाके से अधिक से अधिक सैम्पल लेकर उनकी जांच करवाई जाए, ऐसे इलाके के सैम्पलों की आर0टी0पी0सी0आर0 के माध्यम से जांच करवायी जाए ताकि जितना जल्दी हो सके, संक्रमित व्यक्ति को खोजा जा सके और उनकी शृंखला को तोड़ा जा सके। उन्‍होंने कहा कि बचाव से ही कोविड-19 की सेकेन्ड वेव से बच सकते हैं। उन्होंने कहा कि विशेषकर बच्चे, बुजुर्ग, महिलाएं तथा बीमार व्यक्तियों को संक्रमण से दूर रखकर उन्‍हें कोविड-19 की सेकेन्ड वेव से बचाया जा सकता है।

श्री प्रसाद ने कहा कि प्रदेश में कल एक दिन में कुल 1,75,633 सैम्पल की जांच की गयी। प्रदेश में अब तक कुल 1,91,70,240 सैम्पल की जांच की गयी है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना से संक्रमित 2036 नये मामले आये हैं। प्रदेश में 24,575 कोरोना के एक्टिव मामले हैं। होम आइसोलेशन में 11,792 लोग हैं। उन्होंने बताया कि अब तक कुल 3,10,701 लोग होम आइसोलेशन की सुविधा प्राप्त करते हुए 2,98,909 लोगों ने अपने होम आइसोलेशन की अवधि पूर्ण कर ली है। उन्होंने बताया कि निजी चिकित्सालयों में 2294 लोग इलाज करा रहे हैं, इसके अतिरिक्त बाकी मरीज एल-1, एल-2 तथा एल-3 के सरकारी अस्पतालों में अपना इलाज करा रहे हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में 2618 लोग कोविड-19 से ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं। अब तक कुल 5,09,556 लोग कोविड-19 से ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं। प्रदेश में रिकवरी का प्रतिशत 94.03 है।

उन्होंने बताया कि कोविड-19 की मेडिकल टेस्टिंग के कार्य को पूरी क्षमता से संचालित करने के निर्देश दिये है। जिसमें से 40 प्रतिशत टेस्ट आर0टी0पी0सी0आर0 के माध्यम से तथा शेष 60 प्रतिशत टेस्ट रेपिड एन्टीजन के माध्यम से किये जा रहे हैं।