Tuesday , August 16 2022

अपनी जनसंख्‍या घटानी है, पेड़ों की संख्‍या बढ़ानी है : प्रो सूर्यकांत

-केजीएमयू व धन्वन्तरि सेवा संस्थान ने पर्यावरण के लिए किया वृक्षारोपण

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। वायु प्रदूषण को घटाने जैसे ज्‍वलंत विषय पर बीते एक दशक से पेड़ लगाने को बढ़ावा दे रहे केजीएमयू के रेस्‍पाइरेटरी मेडिसिन विभाग के विभागाध्‍यक्ष प्रो सूर्यकांत ने अब जनसंख्‍या नियंत्रण अभियान के साथ पौधरोपण अभियान को जोड़ते हुए कहा है कि हमें अपनी जनसंख्‍या घटानी है, पौधों की संख्‍या बढ़ानी है।

उन्‍होंने यह बात विश्‍व जनसंख्‍या दिवस के मौके पर धन्वन्तरि सेवा संस्थान और केoजीoएमoयूo लखनऊ के द्वारा आयोजित पौधारोपण कार्यक्रम के मौके पर उन्‍होंने कही। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि डॉ एस एन संखवार के मार्ग-दर्शन में संस्थान के संचालक अवधेश नारायण, संस्थान के सचिव डॉ नीरज मिश्र, अध्यक्ष डॉ सूर्यकांत की उपस्थिति में प्राचीन संकट मोचन आरोग्य मंदिर के परिसर में छायादार, फलदार, फूलदार व अन्य कई  प्रकार के पौधे लगाए गये।

डॉ सूर्यकांत ने सभी शुभ अवसरों पर एक-एक पौधा लगाने की अपील की। उन्होंने कहा कि पेड़ न केवल कार्बन डाइऑक्साइड लेते हैं बल्कि वातावरण से कई अन्य हानिकारक गैसों को भी अवशोषित करते हैं जिससे वातावरण को ताजगी व मानव को जीवनदायिनी ऑक्सीज़न भी मिलती है, एक नागरिक के तौर पर हमारा कर्तव्य भी है, पर्यावरण को सुरक्षित रखना। डॉक्टर सूर्यकांत ने पर्यावरण को सुरक्षित रखने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा चलाये जा रहे  वृक्षारोपण कार्यक्रम  ‘एक व्यक्ति-एक वृक्ष’ के संकल्प को अपनाने की अपील की।

संस्थान के संचालक अवधेश नारायण ने कहा कि वृक्षारोपण कार्यक्रम को सफल बनाने में जनसहभागिता आवश्यक है, इसके लिए जरूरी है कि लोगों को पर्यावरण के बारे में जागरूक किया जाय। इस मौके पर संस्थान के सचिव डॉक्टर नीरज, कोषाध्यक्ष ललित जोशी व कार्यकर्ता सन्तोष, राम बाबू मिश्र, मुकुल मिश्र, फूलचंद व अन्य कई कार्यकर्ता मौजूद रहे।