चेहरे पर मुस्कान और निरोगी काया देने वाला ईश्वर का स्वरूप

 

वर्ल्ड स्माइल डे पर मंत्री ने दिए कटे होठ कटे तालू वाले बच्चों को उपहार  

 

लखनऊ. हमारे शास्त्रों में कहा गया है कि पहला सुख निरोगी काया, यानी आप अगर निरोगी हैं तो आप बहुत सुखी हैं और आपको निरोग रखने में जो सहायता करे वह निश्चित रूप से ईश्वर का स्वरूप होता है. यह बात आज वर्ल्ड स्माइल डे पर हेल्थ सिटी हॉस्पिटल में आयोजित कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश सरकार के मंत्री सुरेश खन्ना ने कही.

 

उन्होंने कहा कि अपने लिए तो सभी जीते हैं लेकिन दूसरों के चेहरे पर मुस्कान लाना बड़ी बात है. उन्होंने स्माइल ट्रेन प्रोजेक्ट के डायरेक्टर और हेल्थ सिटी के डायरेक्टर डॉ. वैभव खन्ना की सराहना करते हुए कहा कि डॉ. वैभव द्वारा कटे होठ और कटे तालू के अब तक 7000 से ज्यादा ऑपरेशन करना यह साबित करता है कि वह अपने काम में कितने निपुण और समर्पित हैं. उन्होंने इस अवसर पर कटे होठ और कटे तालू वाले बच्चों को उपहार भी दिए. मंच का संचालन करते हुए डॉ. आदर्श कुमार ने कहा कि अक्सर कहा जाता है कि कटे होठ और कटे तालू का ऑपरेशन कराने की उम्र क्या हो लेकिन इसे कभी भी कराया जा सकता है. ऐसी ही एक महिला जिनका ऑपरेशन किया गया था उन्हें भी मंच पर बुलाकर उपहार प्रदान किया गया.

 

समारोह में उपस्थित बलरामपुर असपताल के निदेशक डॉ. राजीव लोचन ने भी डॉ. वैभव खन्ना की तारीफ करते हुए कहा कि मैं लम्बे समय से देख रहा हूँ कि डॉ. वैभव अमेरिका की संस्था स्माइल ट्रेन प्रोजेक्ट से जुड़े हुए हैं और कटे होठ और कटे तालू वाले बच्चों के चेहरे पर मुस्कान देने का कार्य कर रहे हैं. इस मौके पर डॉ. वैभव खन्ना ने मुख्य अतिथि मंत्री सुरेश खन्ना का स्वागत करते हुए कार्यक्रम में आने के लिए उनका तथा सभी अतिथियों का आभार जताया.