अब गैर हिन्‍दी भाषी क्षेत्रों में भी कोविड संक्रमण से बचने की ट्रेनिंग देंगे केजीएमयू के वीडियो

-डॉ विनोद जैन व टीम ने हिन्‍दी के बाद अब अंग्रेजी में भी तैयार किये 33 लघु वीडियो

-हिन्‍दी में चिकित्‍सा सेतु की तरह अंग्रेजी में तैयार ऐप में शामिल किये जायेंगे वीडियो

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय द्वारा स्वास्थ्य कर्मियों व जन सामान्य को कोविड संक्रमण से बचाने के लिए पूर्व में हिन्‍दी भाषा में बनाये गये 33 लघु वीडियो, जिनका प्रसारण चिकित्‍सा सेतु ऐप के माध्‍यम से हो रहा है, को अब पुन: अंग्रेजी भाषा में भी तैयार किया गया है। खास बात यह है कि अंग्रेजी भाषा के लिए इन वीडियो को हिन्‍दी से अंग्रेजी में डब नहीं किया गया है बल्कि इन्‍हें पुन: शूट करके तैयार किया गया है। अपनी टीम के सहयोग से इन वीडियो को तैयार करने वाले केजीएमयू के सर्जरी विभाग के प्रोफेसर व डीन पैरामेडिकल डॉ विनोद जैन ने दो घंटे छह मिनट 41 सेकंड की अवधि के ये सभी 33 वीडियो आज कुलपति ले.ज. डॉ बिपिन पुरी को सौंप दिये। अब कोविड संक्रमण से बचाने का प्रशिक्षण देने वाले ये वीडियो गैर हिन्‍दी भाषी राज्‍यों में भी केजीएमयू का झंडा बुलंद करेंगे।

कुलपति ने कहा कि यह अत्‍यन्‍त हर्ष का विषय है कि स्‍वास्‍थ्‍य कर्मियों व जनसामान्‍य को संक्रमण से बचाने वाले ये वीडियो केजीएमयू द्वारा तैयार किये गये हैं। मैं इन वीडियो को तैयार करने वाले डॉ विनोद जैन और उनकी टीम के सदस्‍य राघवेंद्र शर्मा, वीनू दुबे एवं शालिनी गुप्‍ता को बधाई देता हूं। इन वीडियो के माध्‍यम से स्‍वास्‍थ्‍य कर्मी व जनसामान्‍य स्‍वयं को व अपने परिवार को कोविड संक्रमण से बचा सकते हैं।

कुलपति ने कहा, शांति काल की पुख्‍ता तैयारी बचाती है युद्ध में रक्‍त बहने से

कुलपति लेफ्टिनेंट जनरल डॉ विपिन पुरी ने संक्रमण से अपने आप को सुरक्षित रखने के लिए इन वीडियो के माध्यम से प्रशिक्षण लेने की अपील करते हुए इसका इसकी तुलना युद्ध की तैयारी से करते हुए कहा कि यदि हम शांति के समय अधिक पसीना पाएंगे तो युद्ध के समय हमारा रक्त कम बहेगा, इसलिए इस कोविड-19 की लड़ाई में हमें अपने आप को सुरक्षित रखने के लिए प्रशिक्षण के लिए प्रयास करते रहना चाहिए। इन वीडियो में मास्क के प्रकार, मास्क पहनने व मास्‍क उतारने का सही तरीका, हाथों की स्वच्छता (साबुन पानी एवं सैनिटाइजर द्वारा) पीपीई किट का पहनने व उतारने का सही तरीका, कोविड-19 की जांच के लिए सैंपल लेने का सही तरीका, लेबलिंग एवं स्‍थानांतरण, औजारों एवं स्टेथोस्कोप की सफाई, सफाई का प्रोटोकाल, जैविक अपशिष्ट एवं कोविड-19 मृतक शरीर का निस्तारण, कोविड-19 रोगी का एंबुलेंस द्वारा स्थानांतरण, लिनन की सफाई, एंबुलेंस की सफाई, ब्लीचिंग घोल बनाने का तरीका, आइसोलेशन वार्ड में ड्यूटी के दौरान क्या करें और क्या न करें, आइसोलेशन वार्ड में ड्यूटी के दौरान सावधानी, फील्ड सर्वे के दौरान सावधानी, होम आइसोलेशन एवं होम क्वॉरेंटाइन के दौरान की जिम्मेदारी एवं सावधानी, सामाजिक दूरी, प्रतिरोधक क्षमता इत्यादि के बारे में जानकारी दी गई है। कुलपति ने जन उपयोगिता को बढ़ाने के लिए इन सभी वीडियो को केजीएमयू की वेबसाइट www.kgmu.org पर भी अपलोड करने के निर्देश दिए हैं।

देखें वीडियो-चिकित्‍सा सेतु ऐप के अंग्रेजी संस्‍करण के लिए तैयार किये गये वीडियो के बारे में 25 सितम्‍बर को जानकारी देते केजीएमयू के कुलपति ले.ज.डॉ बिपिन पुरी

इस बारे में डॉ विनोद जैन ने बताया कि इन ट्रेनिंग वीडियो से  चिकित्सा सेतु एप का अंग्रेजी वर्जन नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ स्मार्ट गवर्नेंस द्वारा किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय के सहयोग से प्रशांत शर्मा आईएएस एवं उनकी टीम द्वारा तैयार किया जाएगा। उन्होंने बताया चिकित्सा सेतु एप के हिंदी भाषा का लोकार्पण पूर्व में ही उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं उत्तराखंड के मुख्यमंत्री अपने-अपने राज्यों के स्वास्थ्य कर्मियों तथा जन सामान्य के लिए कर चुके हैं। इसका लाभ अन्य प्रदेश के लोग भी उठा रहे हैं।