…ताकि सिंधी बच्‍चा फि‍ल्‍म देखकर सिंधी भाषा की ओर हो आकर्षित

-सिंधी अकादमी ने नॉवेल्‍टी में दिखायी सिंधी पारिवारिक फि‍ल्‍म

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सिंधी अकादमी द्वारा 25 मार्च को नॉवेल्टी सिनेमा हजरतगंज में (वरदान – हिक अनमोल सौगात) नामक सिंधी फिल्म का एक शो शाम 4 बजे से प्रदर्शित किया गया। सर्वप्रथम मुख्य अतिथि फकीर साईं हरीश लाल तथा तृप्ति शिव शांति आश्रम लखनऊ तथा उपाध्यक्ष उत्तर प्रदेश सिंधी अकादमी के नानक चंद लखमानी द्वारा सरस्वती प्रतिमा पर फूल तथा माल्यार्पण कर दीप प्रज्ज्वलन किया गया।

यह जानकारी देते हुए बताया गया है कि मुख्य अतिथि द्वारा कहा गया कि यह फिल्म सिंधी परिवारिक फिल्म है सिंधी फिल्म होने के कारण फिल्म के प्रदर्शन से खासतौर से छोटे बच्चे फिल्म को देखकर सिंधी भाषा के प्रति प्रेरित होंगे। अकादमी के उपाध्यक्ष नानक चंद्र लखमानी द्वारा अवगत कराया गया कि उत्तर प्रदेश सरकार के 4 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्‍य में इस फिल्म का प्रदर्शन सरकार की बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान से प्रेरित होकर किया जा रहा है।

यह फिल्म एक सिंधी परिवारिक फिल्म है जिसमें बेटियों को फिल्म के माध्यम से समाज में शिक्षा और जागरूकता की ओर अग्रसर किया गया है। श्री लखमानी द्वारा यह भी अवगत कराया गया कि अकादमी अपने उद्देश्यों के प्रति निरंतर प्रयासरत है। अकादमी द्वारा 30 मार्च को कानपुर में सिंधी फिल्म का प्रदर्शन तथा एटा में सिंधी लोकगीत तथा सूफी कलाम का आयोजन कराया जायेगा।

फिल्म प्रदर्शन कार्यक्रम में डीसी चंदानी, अनिल चंदानी, दर्पण लखवानी, तरुण  संगवानी, महेश गुरनानी, नारायण दास एवं सिंधी समाज के कई गणमान्य जन उपस्थित थे।