Sunday , November 14 2021

तीन जिलों से दो करोड़ 34 लाख की प्रतिबंधित दवायें जब्‍त

खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन की छापेमारी, तीन गिरफ्तार, मुकदमे दर्ज

लखनऊ। उत्‍तर प्रदेश के जनपद लखनऊ, अलीगढ़, महराजगंज एवं मेरठ में औषधि नियंत्रण अधिकारियों की टीम द्वारा छापों की कार्यवाही सम्पादित की गयी, जिसमें लगभग 2 करोड़ 34 लाख मूल्य की मनोप्रभावित एवं प्रतिबन्धित औषधियां जब्त की गयीं तथा कुल 3 व्यक्तियों को गिरफ्तार करते हुए 2 प्रकरणों में प्राथमिकी दर्ज करायी गयी। यह जानकारी खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन अपर आयुक्त (प्रशासन) राहुल सिंह ने आज यहां दी।

 

उन्होंने बताया कि अपर मुख्य सचिव अनिता भटनागर जैन एवं खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन आयुक्त, मिनिस्ती एस. के निर्देशों के क्रम में 24 अप्रैल को जनपद लखनऊ, उन्नाव एवं सीतापुर के औषधि नियंत्रण अधिकारियों द्वारा अमीनाबाद, लखनऊ में स्थित अवैध रूप से कार्यरत औषधि विक्रय प्रतिष्ठान पर छापे की कार्यवाही की गयी, जिसमें मौके पर लगभग 7,81,182 रुपये मूल्य की अवैध औषधियां जब्त की गयीं तथा तीन संदिग्ध औषधियों के नमूने जाँच एवं विश्लेषण हेतु संग्रहीत किये गये। औषधि निरीक्षक, लखनऊ द्वारा अवैध औषधि विक्रय प्रतिष्ठान के संचालकों के विरुद्ध थाना अमीनाबाद में शिकायत दर्ज की गयी।

 

श्री सिंह ने बताया कि 25 अप्रैल को जनपद अलीगढ़ में अभिसूचना के आधार पर मुरादाबाद, बिजनौर एवं अलीगढ़ के औषधि नियंत्रण अधिकारियों द्वारा 5 औषधि विक्रय प्रतिष्ठानों पर छापे की कार्यवाही सम्पादित की गयी। कार्यवाही में लगभग 2 करोड़ 18 लाख 52 हजार रुपये मूल्य की मनोप्रभावित एवं प्रतिबन्धित औषधियां जब्त की गयीं एवं 5 संदिग्ध औषधियों के नमूने जांच एवं विश्लेषण के लिए संग्रहीत किये गये। प्रकरण में 2 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया एवं 5 व्यक्तियों के विरुद्ध एनडीपीएस एक्ट की धारा-21, 22, 25 व 26 के अंतर्गत थाना देहली गेट अलीगढ़ में प्राथमिकी दर्ज करायी गयी।

 

अपर आयुक्त ने बताया कि इसी प्रकार जनपद महराजगंज में प्राप्त अभिसूचना के आधार पर औषधि नियंत्रण अधिकारी द्वारा सशस्त्र सीमा बल एवं पुलिस फोर्स थाना ठूठीबारी के साथ स्थान ठूठीबारी इण्डिया नेपाल बार्डर पर एक व्यक्ति से मनोप्रभावित एवं नशीली औषधियां जब्त की गयीं, जिनका मूल्य लगभग 1 लाख 5 हजार रुपये है। प्रकरण में मौके पर एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया तथा व्यक्ति के विरुद्ध थाना ठूठीबारी में एनडीपीएस एक्ट की धारा 8/21(सी), 23 (सी), 24, 25, 26 के तहत प्राथमिकी संख्या 85/19, दर्ज करायी गयी।

 

उन्होंने बताया कि जनपद मेरठ एवं बागपत के औषधि नियंत्रण अधिकारियों द्वारा अवैध रूप से संदिग्ध ऑक्सीटोसिन औषधि की अवैध निर्माण इकाई स्थित ग्राम-जोगियान, थाना सरधना, जनपद मेरठ में छापे की कार्यवाही की गयी। मौके पर 70 लीटर संदिग्ध ऑक्सीटोसिन, जिसका मूल्य लगभग 7 लाख रुपये है, जब्त किया गया इसके अतिरिक्त 50 लाख मूल्य की 7500 डिस्पोजेबल सिंरिंज, 2500 निडल, 6 हजार बोतल क्लोजर्स, 1160 खाली शीशियां जब्त की गयीं। प्रकरण में दोषी व्यक्तियों के विरुद्ध विधिक कार्यवाही की जा रही है।