धरना प्रदर्शन में शामिल होने जा रहे फार्मासिस्‍टों की पुलिस से नोकझोंक

-अंतत: पुलिस ने स्‍वयं अपनी निगरानी में नगर निगम पहुंचाया आंदोलनकारियों को

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। लम्‍बे समय से लम्बित मांगों को लेकर इंडियन पब्लिक सर्विस इंप्लाइज फेडरेशन (इप्सेफ) के आह्वान पर आज धरना प्रदर्शन की घोषणा की गयी थी। धरना-प्रदर्शन में शामिल होने के लिए राजकीय फार्मेसिस्ट महासंघ की रैली आज सिविल अस्पताल से निकली।

राजकीय फार्मासिस्‍ट महासंघ की उत्‍तर प्रदेश शाखा के अध्‍यक्ष सुनील यादव, उपाध्यक्ष ओ पी सिंह, उपाध्यक्ष प्रवीण यादव और महामंत्री अशोक कुमार के नेतृत्‍व में जब फार्मासिस्‍ट नगर निगम जा रहे थे तभी हजरतगंज में पुलिस ने रैली को रोक लिया। रैली में शामिल लोगों से नोक झोंक हुई। पुलिस प्रदर्शनकारियों को आगे नहीं जाने देना चाहती थी, जबकि रैली में शामिल फार्मासिस्‍टों का कहना था कि हम किसी प्रकार का असंतोष नहीं पैदा कर रहे हैं, हमारा विरोध शांतिपूर्वक है। थोड़ी देर तक बहसा-बहसी के बाद पुलिस ने अपनी देखरेख में रैली को नगर निगम मुख्यालय तक पहुंचाया।