समाज के लिए रोल मॉडल बनें गायत्री परिवार से जुड़े लोग

विशाल कार्यकर्ता सम्‍मेलन में डॉ चिन्‍मय पण्‍ड्या का आह्वान

लखनऊ। व्यक्ति निर्माण, परिवार निर्माण, समाज निर्माण, राष्ट्र निर्माण की ऋषि सत्ता ने परिकल्पना की थी, इसको साकार रूप देने के लिए गायत्री परिवार के प्रत्येक कार्यकर्ता को अपने जीवन में अपने परिवार में साकार रूप में उतारना होगा।

यह विचार शनिवार को अखिल विश्व गायत्री परिवार के विशेष प्रतिनिधि एवं प्रतिकुलपति देवसंस्कृति विश्वविद्यालय हरिद्वार के डॉ0 चिन्मय पण्ड्या ने व्‍यक्‍त किये। यह जानकारी देते हुए मुख्य मीडिया प्रभारी उमानंद शर्मा ने बताया कि डॉ पण्‍ड्या अखिल विश्व गायत्री परिवार गायत्री तीर्थ, शांतिकुंज हरिद्वार के तत्वावधान में राजधानी लखनऊ के माधव सभागार, सरस्वतीकुंज, निराला नगर, में आयोजित विशाल कार्यकर्ता सम्‍मेलन को सम्‍बोधित कर रहे थे। उन्‍होंने कहा कि प्रत्येक कार्यकर्ता आने वाली पीढ़ी एवं समाज के लिए रोल मॉडल बने और आपका यह त्याग एक दिन भारत को जगतगुरू बनायेगा।

सम्‍मेलन में भारी संख्या में पीतवस्त्रधारी नर-नारी उपस्थित थे। ‘हम बदलेगें युग बदलेगा’, ‘हम सुधरेंगे युग सुधरेगा’, ‘ज्ञान यज्ञ की मशाल सदा जलेगी’ ‘21वीं सदी उज्ज्वल भविष्य’ का नारा गूंज रहा था। कार्यकर्ताओं द्वारा डॉ पण्‍ड्या का जोरदार अभिवादन किया, जिसका डॉ पण्‍ड्या ने आभार जताया।


इस कार्यक्रम में अरविन्द निगम, अशोक द्विवेदी, अमरनाथ दुबे, सुरेन्द्र सिंह, पी.डी. सारस्वत, अनिल तिवारी, अनिल श्रीवास्तव, डॉ. संजय चतुर्वेदी, सुधाकर सिंह, के.के. श्रीवास्तव, डीके यादव, निष्ठा रस्तोगी, प्रो. रामऔतार सिंह, एस.पी. अवस्थी, उमानंद शर्मा सहित प्रदेश के वरिष्ठ कार्यकर्ता मौजूद थे।