लखनऊवालों सावधान, लगातार बढ़ रही है नये कोविड मरीजों की संख्‍या

-10 नवम्‍बर को 171, 11 नवम्‍बर को 294 और 12 नवम्‍बर को मिले 315 नये मरीज

बाजारों में सोशल डिस्टेंसिंग और उस पर नजर रखने वालों की सक्रियता दूर-दूर तक नहीं

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। वैश्विक महामारी कोविड-19 एक बार फिर से राजधानी लखनऊ में हावी होती दिख रही है, 24 घंटों में मिलने वाले नए मरीजों के आंकड़े 2 दिन से लगातार ऊपर की तरफ जा रहे हैं जो कि चिंता पैदा कर रहे हैं। लखनऊवासियों को यह समझने की आवश्यकता है कि‍ कोविड-19 की दूसरी लहर को किसी भी कीमत पर आने का मौका न दें।

बीते 24 घंटों में लखनऊ में 315 नए मरीजों का पता चला है जबकि 4 लोगों की मृत्यु हुई है, इस दौरान पूरे प्रदेश में 21 लोगों की मौत तथा 2278 नये मरीज पाये गये हैं। लखनऊ में आज 235 लोगों को ठीक होने के बाद डिस्चार्ज किया गया है जबकि इस समय सक्रिय संक्रमितों की संख्या 3130 है। यह लगातार दूसरा दिन है जब लखनऊ में मरीजों की संख्या बढ़ रही है 10 नवंबर को लखनऊ में नए मरीजों की संख्या 171 थी, इसके बाद 11 नवंबर को यह संख्या छलांग लगाकर 294 पहुंच गई और आज 12 नवंबर को यह संख्या 300 का आंकड़ा पार करते हुए 315 पर पहुंच गई। देखने में यह वृद्धि भले ही मामूली लग रही हो लेकिन कुछ प्रदेशों और शहरों में दूसरी लहर के मद्देनजर बढ़ते हुए आंकड़े चिंता पैदा करते हैं। आजकल त्योहारों का सीजन चल रहा है बाजारों में सोशल डिस्टेंसिंग और उस पर नजर रखने वालों की सक्रियता दूर-दूर तक नजर नहीं आती है। जबकि सरकार और विशेषज्ञ बार-बार इस खतरे से लोगों को आगाह कर रहे हैं।

दूसरी लहर के प्रति सावधानी रखना सिर्फ प्रशासन ही नहीं आम जनता का भी कर्तव्य है, जो भी जिम्मेदार और फिक्रमंद लोग हैं, उन्हें इस ओर ध्यान देना होगा, लोगों को जागरूक करना होगा जिससे संक्रमण को लेकर अब कोई अप्रिय स्थिति ना आए।

आज 12 नवंबर को जारी उत्‍तर प्रदेश की रिपोर्ट की बात करें तो 21 मौतों में सर्वाधिक चार मौतें राजधानी लखनऊ में ही हुई हैं, इसके अलावा मेरठ में तीन, आगरा में दो तथा कानपुर नगर, गौतम बुद्ध नगर, झांसी, लखीमपुर खीरी, मुजफ्फरनगर, हरदोई, मथुरा, गाजीपुर, सोनभद्र, पीलीभीत, कौशांबी और बागपत में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई है। 2278 नए मरीजों में सर्वाधिक लखनऊ में 315, गौतम बुद्ध नगर में 214, मेरठ में 160 तथा गाजियाबाद में 145 मरीज मिले हैं जबकि प्रदेश के बाकी जिलों में नए मिलने वाले मरीजों की संख्या 100 से कम है इस अवधि में प्रदेश में कुल 1870 लोगों को ठीक होने के बाद डिस्चार्ज किया गया जबकि इस समय सक्रिय मरीजों की संख्या 22,949 है।