लोहिया संस्‍थान में मेडिकल छात्रों की दबंगई, कर्मचारियों को पीटा, तोड़फोड़ की

-आधा दर्जन कर्मचारी घायल, काम ठप, मरीज-तीमारदार परेशान
-प्रशासन ने जारी किया दोनों पक्षों को नोटिस, 24 घंटे में मांगा जवाब

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ डॉ राम मनोहर लोहिया संस्थान में मंगलवार को एमबीबीएस के छात्रों और कर्मचारियों के बीच शुरू हुई नोकझोंक मारपीट और तोड़फोड़ में बदल गयी। छात्रों ने जमकर हंगामा किया तथा अराजकता का माहौल बना दिया। इस घटना में आधा दर्जन कर्मचारी घायल हुए हैं जबकि तोड़फोड़ करने वाले छात्र के हाथ में शीशे से चोट लगी है। हंगामा, मारपीट, तोड़फोड़ होने के बाद पुलिस पहुंच गयी। बताया जाता है कि अभी किसी भी पक्ष की ओर से एफआईआर दर्ज नहीं करायी गयी है। दोनों पक्षों की ओर से निदेशक के पास शिकायत की गयी है, निदेशक द्वारा गठित जांच कमेटी ने सीसीटीवी फुटेज खंगाले, लम्‍बा मंथन चला। फि‍लहाल दोनों पक्षों को कारण बताओ नोटिस देकर 24 घंटे में जवाब मांगा गया है, उसके बाद ही काररवाई तय की जायेगी। जांच कमेटी में सीएमएस प्रो पीएस सिंह, डीन प्रो नुजहत हुसैन और यूजी कमेटी मेम्‍बर सेक्रेटरी डॉ नबवीर पसरीचा शामिल हैं।

देखें वीडियो : लोहिया संस्‍थान के निदेशक डॉ एके त्रिपाठी ने प्रदर्शनकारी कर्मचारियों के बीच पहुंचकर क्‍या कहा

इस बारे में संविदा कर्मचारी संघ के महामंत्री सच्चिदानंद का आरोप है कि सुबह करीब साढ़े नौ बजे संस्‍थान स्थित ऑन्‍कोलॉजी भवन में बने स्‍टाफ काउंटर पर एक एमबीबीएस छात्र चार लोगों के परचे बनवाने पहुंचा, कर्मचारियों का कहना है कि टोकन खत्‍म होने के कारण परचा बनाने से मना करने के बाद काउंटर पर बैठे कर्मचारी और छात्र के बीच नोकझोंक हुई। आरोप है कि इसके बाद छात्र ने अपने साथियों को वहां बुलाकर कर्मचारियों के साथ मारपीट शुरू कर दी। इसमें पीआरओ आनंद, कम्‍प्‍यूटर ऑपरेटर उदित, आशीष व प्रतीक के साथ ही सुरक्षा कर्मी त्रिपुरारी व राजू घायल हो गये। एक महिला कर्मी को भागकर एक कमरे में छुपना पड़ा। इस दौरान शीशे के दरवाजे को हाथ मारकर तोड़ने में छात्र के हाथ में चोट आयी है। घटना के बाद से अफरा-तफरी मच गयी, जिससे कार्य में व्‍यवधान उत्‍पन्‍न हो गया और मरीजों को दिक्‍कतों का सामना करना पड़ा। कर्मचारियों ने प्रशासननिक भवन पर धरना प्रारम्‍भ कर दिया है, हालांकि निदेशक ने कर्मचारियों के बीच पहुंचकर बैठक में हुए निर्णय से प्रदर्शनकारी कर्मचारियों को अवगत कराते हुए कहा कि दोनों पक्षों को कारण बताओ नोटिस जारी की जा रही है, तथा 24 घंटे बाद दोनों पक्षों के आरोप, सबूत देखकर उचित काररवाई की जायेगी।

देखें वीडियो : लोहिया संस्‍थान के संविदा कर्मचारी संघ के महामंत्री सच्चिदानंद ने बतायी पूरी घटना

दूसरी ओर कर्मचारियों का कहना है कि वीडियो फुटेज मौजूद है, जिसमें सबकुछ साफ दिख रहा है कि लड़कों ने कैसे मारपीट, तोड़फोड़ की है, ऐसे में दोषी छात्रों के खिलाफ तुरंत काररवाई की जानी चाहिये, कर्मचारियों का यह भी कहना था, कि यह पहला मामला नहीं हैं, पहले भी छात्र ऐसा कर चुके हैं। यही नहीं बाहर के दुकानदारों से भी छात्रों ने मारपीट की थी।

हंगामे के बीच ऑन्कोलॉजी भवन में शुल्क जमा काउंटर, स्टाफ काउंटर, जांच कलेक्शन कांउटर पर घंटे भर तक काम ठप रहा। एक्स-रे, अल्ट्रासाउंड, सीटी स्कैन, एमआरआइ जांच रिपोर्ट लेने और शुल्क जमा करने को लेकर मरीज भटकते रहे।