यूपी के 250 गांवों में खेतों में ही मिट्टी की जांच की सुविधा देगा एचडीएफसी बैंक

मृदा परीक्षण वैन गांव-गांव जायेगी परीक्षण करने, किसानों को होगा फायदा

मेरठ/लखनऊ। एचडीएफसी बैंक लिमिटेड ने उत्तर प्रदेश के 250 गांवों में किसानों के लिए मुफ्त मिट्टी परीक्षण कराने की अपनी योजना की आज यहां घोषणा की। इस योजना का उद्देश्‍य स्थानीय किसानों को उनकी मिट्टी की पोषक गुणवत्ता को समझने और उनकी फसल की उपज बढ़ाने में मदद करना है।

आपको बता दें कि वर्तमान में किसानों को अपनी मिट्टी का परीक्षण कराने के लिए निकटतम मृदा परीक्षण सुविधा तक जाने के लिए लम्बी दूरी तय करनी पड़ती है, जो समय लगने के साथ-साथ महंगी भी है। मृदा परीक्षण वैन प्रत्येक गांव में जाएंगी और मिट्टी के नमूनों का डिजिटली परीक्षण करेंगी। किसानों को त्रुटिपूर्ण कृषि पद्धतियों के बारे में शिक्षित किया जाएगा और उनकी मृदा पोषण में सुधार के लिए उपाय भी सुझाए जाएंगे। एक महीने के लिए आयोजित होने वाली इस गतिविधि से 250 गांवों के 10,000 से अधिक किसान सीधे-सीधे लाभान्वित होंगे।

मेरठ में आयोजित इस लॉन्चिंग कार्यक्रम में, अनिल धींगड़ा, जिला मजिस्ट्रेट और संजीव कुमार, प्रमुख ब्रांच बैंकिंग, उत्तर प्रदेश व उत्तराखंड, एचडीएफसी बैंक ने एचडीएफसी बैंक के अन्य अधिकारियों की उपस्थिति में कार्यक्रम का उद्घाटन किया।

संजीव कुमार, हेड शाखा बैंकिंग, उत्तर प्रदेश, एचडीएफसी बैंक, ने कहा, ‘हमारे बैंक का दीर्घकालिक प्रयास है कि हम जिस समाज में काम करते हैं उसमें कुछ सकारात्मक बदलाव भी लाएं। उन्‍होंने कहा कि हम यह घोषणा करते हुए खुशी महसूस कर रहे हैं कि मिट्टी के परीक्षण और शिक्षा कार्यक्रम से उत्तर प्रदेश के किसानों को लाभ होगा और इससे समृद्धि आयेगी।‘