कोरोना को हराने वाली रीता बहुगुणा की पौत्री की पटाखे से मौत

-दीपावली वाले दिन 60 प्रतिशत जल गयी थी, एम्‍स में ली अंतिम सांस

दादा-दादी के साथ

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ/प्रयागराज। उत्तर प्रदेश में प्रयागराज से सांसद रीता बहुगुणा जोशी की 6 साल की पौत्री की पटाखा से जलने के कारण आज शाम मृत्यु हो गई। उसे आज सुबह ही एयर एंबुलेंस से प्रयागराज से दिल्ली एम्स अस्पताल में रेफर किया गया था। ज्ञात हो पिछले दिनों कोरोना से संक्रमित होकर होने के कारण रीता बहुगुणा जोशी के साथ उनकी यही पौत्री भी अस्पताल में भर्ती थे। उसके बाद दोनों ठीक हो गई थीं।

दादा जी के साथ, यह खिलखिलाहट हमेशा के लिए खामोश हो गयी

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार दीपावली के दिन रीता बहुगुणा जोशी के पुत्र मयंक जोशी की 6 वर्षीय बच्ची पटाखा जलाते समय जल गई थी उसे तुरंत प्रयागराज में ही अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टर ने बताया कि वह 60% जल गई थी इसके बाद उसका इलाज चलता रहा तथा हालत गंभीर होने के बाद आज 17 नवंबर को प्रातः दिल्ली एम्स रेफर किया गया था उसे एयर एंबुलेंस से प्रयागराज से दिल्ली शिफ्ट कराया गया। खबर है कि एम्स में इलाज के दौरान शाम को बच्ची ने दम तोड़ दिया। मौत की खबर मिलते ही प्रयागराज स्थित घर में हड़कंप मच गया है। खबर लिखे जाने तक बच्‍ची के शव को दिल्‍ली से प्रयागराज लाया जा रहा है।