उम्र से 10 साल छोटे दिखने की तरकीब सिखाने आ रहे विशेषज्ञ

-18वें वार्षिकोत्‍सव एआईसीबीएकॉन-2020 में लगेगा देश-विदेश के 250 लोगों का जमावड़ा
-युवक-युवतियों को आर्थिक रूप से स्‍वावलम्‍बी बनाने में मददगार है यह ट्रेनिंग

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। सदा जवां रहना कौन नहीं चाहता, इसी प्रकार खूबसूरत दिखने की चाहत भी सभी को होती है। सेहत और सूरत दोनों की खूबसूरती पर केंद्रित रहने के उद्देश्‍य से ऑल इंडिया कॉस्‍मेटोलॉजिस्‍ट्स एंड ब्‍यूटीशियंस एसोसिएशन (एआईसीबीए) के तत्‍वावधान में प्रति वर्ष देश-विदेश के विशेषज्ञों का वार्षिक जमावड़ा लगता है। अब एक बार फि‍र से एआईसीबीए) आगामी 12 जनवरी को यहां लखनऊ के गोमती नगर स्थित होटल हिल्‍टन गार्डेनिया इन में अपना वार्षिकोत्‍सव एआईसीबीएकॉन-2020 मनाने जा रहा है। इसमें देश-विदेश से करीब 250 सुपर स्‍पेशियलिस्‍ट्स, स्‍पेशियलिस्‍ट्स, प्‍लास्टिक सर्जन, सौन्‍दर्य विशेषज्ञ एवं फि‍टनेस विशेषज्ञ शामिल होंगे। इसका उद्घाटन उत्‍तर प्रदेश के चिकित्‍सा एवं स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री जयप्रताप सिंह करेंगे तथा विशिष्‍ट अतिथि के रूप में केजीएमयू के कुलपति प्रो एमएलबी भट्ट व लखनऊ मेट्रो के एमडी कुमार केशव शामिल होंगे।

यह जानकारी आज यहां रॉयल कैफे में आयोजित एक पत्रकार वार्ता में एआईसीबीए की संस्‍थापक तथा होने जा रहे वार्षिकोत्‍सव की आयोजक डॉ रमा श्रीवास्‍तव, एसोसिएशन के अध्‍यक्ष व प्‍लास्टिक सर्जन डॉ एके सिंह, सेक्रेटरी ब्‍यूटी रश्मि मेहन, सेक्रेटरी हेल्‍थ डॉ मनोज श्रीवास्‍तव व ज्‍वॉइंट सेक्रेटरी ब्‍यूटी साधना जग्‍गी ने दी।

बिना सर्जरी मिटेंगी झुर्रियां, दूर होंगे चोट के निशान

डॉ एके सिंह ने बताया कि बिना शल्‍य चिकित्‍सा किये किस तरह से कुछ अंगों जैसे चोट लगने के हल्‍के निशान, हल्‍की झुर्रियां आदि को ठीक किया जा सकता है। उन्‍होंने बताया कि हालांकि अगर कोई निशान गहरा है तो उसके लिए शल्‍य चिकित्‍सा की जरूरत होती है। उन्‍होंने बताया कि वाराणसी से आने वाले डॉ अजीत सहगल प्‍लाज्‍मा थैरेपी से झुर्रियां मिटाने की तरकीब सिखायेंगे।

अब तक 700 युवक-युवतियां ले चुके हैं ट्रेनिंग

डॉ रमा श्रीवास्‍तव ने बताया कि इस मौके पर एक स्‍मारिका का भी विमोचन किया जायेगा। उन्‍होंने बताया कि संस्‍था द्वारा यह 18वां वार्षिकोत्‍सव मनाया जा रहा है, और अब तक करीब 700 युवक व युवतियों को स्‍वास्‍थ्‍य एवं सौंदर्य से सम्‍बन्धित ट्रेनिंग एवं सार्टीफि‍केट दिये जा चुके हैं जिससे उन्‍हें जहां व्‍यावहारिक ज्ञान मिला है वहीं आर्थिक रूप से स्‍वावलम्‍बी होने में भी सहायता मिली है। डॉ रमा ने बताया कि इस मौके पर प्रतिवर्ष की तरह एआईसीबीए किंग तथा क्‍वीन प्रतियोगिता होगी, जिसमें 30 वर्ष से ऊपर के प्रतिभागियों को शामिल किया जायेगा। विजेताओं की ताजपोशी के साथ उन्‍हें पुरस्‍कृत भी किया जायेगा। डॉ रमा ने बताया कि इसमें भाग लेने के लिए पंजीकरण कराने के लिए युवक-युवतियां लगातार उनसे सम्‍पर्क कर रहे हैं, उन्‍होंने कहा कि अभी पंजीकरण सामान्‍य दरों पर हो रहा है लेकिन ऑन स्‍पॉट रजिस्‍ट्रेशन कराने में ये दरें बढ़ जायेंगी।

रश्मि मेहन ने बताया कि विशेषज्ञों द्वारा सिखाया जायेगा कि कैसे स्‍मार्ट दिखें और महसूस भी करें। उन्‍होंने कहा कि ऐसी-ऐसी टिप्‍स बतायी जायेंगी कि ज्‍यादा उम्र वाला भी अपनी उम्र से 10 साल कम नजर आये। उन्‍होंने बताया कि ब्‍यूटी पार्लर्स में बढ़ती उम्र को कम दिखाये जाने के तरीकों पर विवेचना होगी जिसे डॉ पूनम मिश्रा संचालित करेंगी एवं साधना जग्गी, रश्मि मेहन, दीपिका चौधरी एवं अन्‍य भाग लेंगी।

डॉ मनोज श्रीवास्‍तव ने बताया कि शिकागो (अमेरिका) से आये हुए डॉ साकेत सिन्‍हा वरिष्‍ठ नागरिकों को घर में चिकित्‍सा सुविधायें कैसे प्रदान की जायें, इस पर प्रकाश डालेंगे। उन्‍होंने बताया कि चेहरे की खूबसूरती को कैसे बदला जा सकता है, इस पर विवेचना होगी, इसमे प्रो एके सिंह, प्रो एसडी पाण्‍डेय, डॉ आदर्श कुमार, डॉ वैभव खन्‍ना, डॉ अली आतिफ तथा दिशा जग्‍गी भाग लेंगे। उन्‍होंने बताया कि हर उम्र में फि‍ट रहने के तरीके संदीप आहूजा बतायेंगे।

साधना जग्‍गी ने बताया कि दिल्‍ली से आयी हुईं डॉ ब्‍लोसम कोचर बालों के रख-रखाव पर प्रकाश डालेंगी, मुम्‍बई की सौन्‍दर्य विशेषज्ञ छाया साल्‍वे पाटिल नयी तकनीक से दुल्‍हन सजाने की सजीव प्रस्‍तुति देंगी। मशहूर फि‍ल्‍म आर्टिस्‍ट आमोद दोसी कैरेक्‍टर मेकअप दिखायेंगे। उन्‍होंने बताया कि इसके अतिरिक्‍त हरीश भाटिया हेयर कटिंग के नये तरीके सिखायेंगे।

डॉ रमा श्रीवास्‍तव ने यह भी बताया कि इस मौके पर आईवीएफ के बारे में डॉ सुनीता चन्‍द्रा एक व्‍याख्‍यान भी देंगी। उन्‍होंने बताया कि आगामी अप्रैल के महीने में एआईसीबीए का 7वां अंतरराष्‍ट्रीय सम्‍मेलन भी मलेशिया में आयोजित किया जा रहा है। वार्षिकोत्‍सव के दौरान इसके बारे में डॉ रमा व डॉ संजय अरोरा एक वीडियो प्रस्‍तुति देंगे।